बच्चों को मिलने वाली ग्रीष्म कालीन अवकाश को लेकर पूरे प्रदेश में कन्फ्यूजन की स्थिति .........देखिये आदेश में क्या कहा गया है


इस वर्ष प्रदेश के सभी स्कूलों में बच्चों को मिलने वाले ग्रीष्म कालीन अवकाश के संबंध में कन्फ्यूजन की स्थिति बनी हुई है। 

दरअसल प्रत्येक शिक्षा सत्र के मई जून माह में चलने वाली गर्म हवाओं के कारण ग्रीष्म कालीन अवकाश दिया जाता है क्योंकि गर्म हवाओं के कारण बच्चों का स्वास्थ्य खराब हो सकता है इस बात को ध्यान में रखते हुए 1 मई से 15 जून तक ग्रीष्म कालीन अवकाश घोषित किया जाता है।इस सत्र के लिए भी मंत्रालय से 1 मई से 15 जून तक ग्रीष्मकालीन अवकाश होने के संबंध में आदेश जारी किया गया था। 


हाल ही में scetr प्रबंध संचालक के द्वारा एक आदेश जारी करते हुए प्रदेश के सभी प्रारम्भिक शालाओं में ग्रीष्मावकाश के दौरान समर कैम्प लगाए जाने के संबंध में आदेश जारी हुआ है। इस आदेश के विपरीत इम्पेक्ट न्यूज रायपुर से छपा एक न्यूज तेजी से वायरल हो रहा है जिसमें कहा गया है कि सचिव ,छत्तीसगढ़ स्कुल शिक्षा विभाग रायपुर ने संगोष्ठी बैठक में यह स्पष्ट कर दिया है कि इस बार ग्रीष्म कालीन अवकाश से संबंधित बहुत सारे अफवाह फैलाई जा रही है जबकि हमारे द्वारा ऐसी कोई भी जानकारी जारी नहीं किया गया है। 

इस अखबार में छपे न्यूज के मुताबिक़ इस सत्र 2019-2020 में 1 मई 2019 से 16 जून 2019 तक ग्रीष्म कालीन अवकाश रहेगी। यदि किसी संस्था द्वारा मनमानी करते हुए शाला संचालित की जाती है और यदि किसी बच्चे का स्वास्थ्य खराब होता है तो संस्था प्रमुख के ऊपर कार्यवाही किया जाएगा। 


Post a comment

0 Comments