आपदाओं से बचने शिक्षकों और बच्चों को दी जायेगी ट्रेनिंग.........स्क़ूल शिक्षा विभाग जल्द करने जा रहा है कवायद शुरू


रायपुर। हाल ही में सूरत में घटी आगजनी की घटना से स्कूल शिक्षा विभाग अलर्ट पर है तथा किसी भी प्रकार की आपदाओं से बचाव हेतु निर्देश जारी करने जा रहा है साथ ही आपदाओं से बचने के लिए शिक्षकों तथा बच्चों को ट्रेनिंग देने का कवायद भी शुरू करने वाला है। किसी भी प्रकार की आपदाओं से बचने के लिए स्कूलों में सुरक्षा योजना चलाने जा रहा है। ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है कि नए शिक्षा सत्र शुरू होते ही इस पर कार्य शुरू किया जा सकता है। 


दरअसल हाल ही में सूरत के एक बहु मंजिला इमारत में आग लग गई थी जिसमें ट्यूशन पढ़ने गए 22 बच्चों का दम घुटने से मौत हो गई थी।इससे  स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा किसी भी प्रकार की आशंकाओं के मद्दे नजर स्कूलों में शाला सुरक्षा योजना चलाने जा रही है। जिसमे बाढ़ ,भूकंप,आग से बचने के उपाय बताये जाएंगे। 

 आपदाओं से बचने के कुछ माह पहले मॉकड्रिल भी हो चूका है।एक सर्वे के अनुसार बहुत कम बच्चों को ही पता है कि कौन से आपदा आने पर क्या क्या सावधानी रखनी है। 


प्रदेश के प्राथमिक और पूर्व माध्यमिक शालाओ  में खरीदे गए अग्निशमन यंत्रों का बुरा हाल है। अधिकांश स्कूलों की बाल्टी ही गायब है। ,संचालक लोक शिक्षण संचालनालय का कहना है कि स्कूलों में कहीं-कहीं सुरक्षा इंतजामों को लेकर खराब होने या नहीं होने की शिकायतें मिली है। नए शिक्षा सत्र में इसे दुरुस्त कर लिया जाएगा।     

Post a comment

0 Comments