जनघोषणा पत्र का क्रियान्वयन में तेजी........अनियमित कर्मचारी होंगे नियमित ,संविलियन से वंचित शिक्षकों में भी जगी आस


रायपुर 12.06.19 ।लोकसभा निर्वाचन 2019 का आदर्श आचार संहिता समाप्त होते ही ,प्रदेश सरकार द्वारा जनघोषणा पत्र में किये गए वादे पर अमल शुरू होगा है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल तथा पंचायत मंत्री टी एस सिंहदेव जी द्वारा विभिन्न मंचों से जनघोषणा पत्र में किये गए वादे को पूरा करने की बात बार -बार दोहराया जाता रहा है ,इसी कड़ी में प्रदेश सरकार जनघोषणा पत्र में किये गए एक और वादे को पूरा करने जा रही है।



दरअसल श्री अनुज पटेल संयुक्त आयुक्त ,विकास आयुक्त कार्यालय ,इंद्रावती भवन ,अटल नगर रायपुर छत्तीसगढ़ द्वारा सर्व मुख्य कार्यपालन अधिकारी ,जिला पंचायत को छत्तीसगढ़ शासन ,पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग ,मंत्रालय ,अटल नगर का पत्र क्रमांक 1435 /आर 1038 /22-1 /2019 दिनांक 27.05.19 का संदर्भ देते हुए, दिनांक 11.06.19 की स्थिति में एक पत्र जारी कर कहा गया है कि अपने अधीनस्थ कार्यालयों में कार्यरत अनियमित कर्मचारियों की जानकारी निर्धारित प्रपत्र में उपलब्ध कराने का कष्ट करेंगे।

निश्चित ही यह आदेश अनियमित कर्मचारियों के लिए राहत भरी खबर है ,नियमितीकरण संबंधी इस आदेश निश्चित ही अनियमित कर्मचारी और उसके परिवार में ख़ुशी की लहर दौड़ जायेगी, इसके साथ ही पूर्ण संविलियन की मांग कर रहे शिक्षकों में इस आदेश ने एक नई आस जगा दी है।

गौरतलब है कि सरकार द्वारा जनघोषणा पत्र में किये गए वादे को लेकर शिक्षक पं. संवर्ग द्वारा समय -समय पर विभिन्न स्तरों में छत्तीसगढ़ शासन के नाम ज्ञापन सौंपकर संविलियन की मांग किया जा रहा है। दिनांक 11.06.19 की स्थिति में विकास आयुक्त कार्यालय से जारी इस आदेश से शिक्षकों में एक नई आस जगी है।



अब देखने वाली बात यह होगी कि प्रदेश सरकार संविलियन से वंचित शिक्षकों के मांगों पर कब तक विचार करती है।  


    

Post a comment

0 Comments