अरपा उत्थान महाअभियान में शिक्षकों ने लिया बढ़-चढ़ कर हिस्सा......छटघाट बिलासपुर में चलाया सफाई अभियान

बिलासपुर 11.06.19 । जिला प्रशासन बिलासपुर के आव्हान एवं जिला शिक्षा अधिकारी बिलासपुर व विकासखंड शिक्षा अधिकारी बिल्हा के निर्देश पर आज दिनांक 11/06/19 को छटघाट बिलासपुर में सरस सलिला अरपा की सफाई अभियान में बिलासपुर के शिक्षकों ने उत्साह के साथ भाग लिया।



ज्ञात हो कि पुराने समय में अरपा नदी की जिसे बिलासपुर शहर की जीवन रेखा कहा जाता है, अपने प्राकृतिक सौंदर्य एवं निर्मल जल के कारण एक अलग पहचान होती थी। समय के साथ तथा बढ़ती आबादी, शहरीकरण ने अरपा को प्रदूषित कर दिया। आलम यह है कि अब अरपा नदी का अस्तित्व खतरे में है। बजबजाती नालियों का पानी, कूड़ा-करकट और जलकुंभी ने अरपा नदी के जल को पूरी तरह प्रदूषित कर दिया है।


अरपा नदी की दुर्दशा को देख शहर के जागरूक जनता एवं विभिन्न संगठनों ने अरपा-अर्पण अभियान, अरपा-आरती, अरपा बचाओ महाअभियान, अरपा-तर्पण जैसे अभियानों के माध्यम से अरपा नदी को बचाने की मुहिम छेड़ रखी है।




इसी तारतम्य में जिला प्रशासन बिलासपुर की पहल पर अरपा नदी के छटघाट पर दो दिवसीय  सफाई अभियान दिनांक 11एवं 12 जून को चलाया गया है।


आज इस अभियान को सफल बनाने के लिए शिक्षा विभाग से  जिला शिक्षा अधिकारी श्री आर. एन.हीराधर, विकास खंड शिक्षा अधिकारी बिल्हा श्री पी. एस.बेदी, सहायक विकासक शिक्षा अधिकारी बिल्हा श्री गोपालकृष्ण दुबे, श्री मुकेश मिश्रा, विकासखंड स्त्रोत समन्वयक श्री डी.पी.चंद्राकर शिक्षकों में विवेक दुबे, प्रदीप पांडेय, विनय मौर्य, सुभाष त्रिपाठी, तूलिका सिंह, दीपक चौधरी, राजेश दुबे, प्रांजल पाठक, अजय तिवारी, डिलेश्वर कंगन, स्मृति बत्रा सहित हजारों की संख्या में शिक्षकों ने भाग लिया।

Post a comment

0 Comments