संकुल समन्वयकों ने दिया गलत जानकारी .......वेतन रोके जाने की मिली सजा...... विकास खंड शिक्षा अधिकारी के कार्यवाही से मचा हड़कंप


रायपुर 21.06.19।मामला प्रदेश के सुकमा जिले के विकास खण्ड कोंटा का है।बताया जाता है कि विकास खण्ड कोंटा के संकुल शैक्षिक समन्वयकों ने स्कूल शिक्षा विभाग की समीक्षा बैठक में गलत एवम भ्रामक जानकारी दिए थे ,जिससे नाराज जिला शिक्षा अधिकारी के निर्देश पर विकास खण्ड शिक्षा अधिकारी में 17 शैक्षिक समन्वयकों के एक माह का वेतन रोके जाने का आदेश प्रसारित किया है।



दरअसल सुकमा जिला में कलेक्टर महोदय के अध्यक्षता में दिनांक 13.06.19 को शिक्षा विभाग की समीक्षा बैठक रखा गया था ,जिसमें विकास खण्ड कोंटा के संकुल शैक्षणिक समन्वयकों द्वारा गलत एवम भ्रामक जानकारी दिया गया था ।

 इस संबंध में प्रसारित आदेश के अनुसार विकास खण्ड कोंटा के शैक्षणिक समन्वयकों ने  शाला त्यागी, अप्रवेशिय बच्चे ,पाठ्य पुस्तक तथा गणवेश वितरण की गलत एवम भ्रामक जानकारी दिए थे , जिस पर जिला शिक्षा अधिकारी सुकमा ने नाराजगी जाहिर करते हुए गलत और भ्रामक जानकारी देने वाले 17 शैक्षिक समन्वयकों के एक माह का वेतन रोके जाने का निर्देश विकास खण्ड शिक्षा अधिकारी को दिया था ।



विकास खण्ड शिक्षा अधिकारी कोंटा द्वारा जिला शिक्षा अधिकारी सुकमा के उक्त निर्देश पर कार्यवाही करते हुए आदेश प्रसारित कर कहा है कि जिला शिक्षा अधिकारी जिला सुकमा के आदेश क्रमांक/2365/जि शि अ/विद्या/ वे.रो./2019 सुकमा दिनांक 14.06.19 के द्वारा कलेक्टर महोदय की अध्यक्षता में दिनांक 13.06.19 को शिक्षा विभाग की समीक्षा बैठक में विकास खण्ड कोंटा के संकुल शैक्षिक समन्वयकों द्वारा गलत एवम भ्रामक जानकारी देने के फल स्वरूप सम्बन्धितों का माह 06/2019 का वेतन रोका जाता है।







Post a comment

0 Comments