कोरोना वायरस के रोकथाम व नियंत्रण के मद्दे नजर बोर्ड की परीक्षाओं पर लगी रोक ..... उच्च शिक्षण संस्थानों की परीक्षाएं भी स्थगित

रायपुर 20.03.2020 -चीन ,अमेरिका ,इटली जैसे देशों में महामारी का रूप ले चुके कोरोना वायरस कितना खतरनाक है ,इसका अंदाजा तो आपको वहां कोरोना वायरस के कारण हुए लोगों के मौत से हो ही गया होगा। चीन ,अमेरिका ,इटली जैसे देशों में लॉक डाउन है ,लोग अपने घरों में कैद हैं। 

भारत में भी दिनोंदिन हालात बदलते ही जा रहा है। कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या बढ़ता ही जा रहा है ,कई शहरों में सार्वजनिक संस्थानों ,मल्टीप्लेक्स ,चौपाटियों ,शैक्षणिक संस्थानों के खुलने पर पाबंदी लगा दी गई। लोगों को अपने -अपने घरों से बाहर नहीं निकले की सलाह दी जा रही है।  



कल दिनांक 19.03.2020 देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा देश को सम्बोधित किया गया ,जिसमे कोरोना जैसे खरतनाक वायरस को रोकने के लिए देश के नागरिकों को सावधानी बरतने को कहा गया। प्रधानमंत्री जी द्वारा पुरे देश में 22 मार्च को जनता कर्फ्यू का पालन करने को कहा गया तथा ऐसे लोग जो कोरोना जैसे खतरनाक वायरस के बावजूद लोगों की सेवा में लगे हुए हैं ,उन्हें अपने -अपने घरों में रह कर आभार व्यक्त करने को कहा गया। 

यदि छत्तीसगढ़ की बात करें तो प्रधानमंत्री के सम्बोधन के बाद मुख्यमंत्री जी द्वारा भी प्रदेश के लोगों को सम्बोधित करते हुए सावधानी बरतने की सलाह दिया गया तथा प्रधानमंत्री जी के फैसले पर कदम से कदम मिलाकर चलने की बात कही गई। मुख्यमंत्री जी द्वारा कोरोना के रोकथाम व नियंत्रण के मद्दे नजर आला अधिकारीयों की बैठक पहले ही लिया जा चूका है तथा अपने अपने विभाग में आवश्यक कार्यवाही करने का निर्देश भी गया गया है। 

प्रदेश में २ मार्च से 30 मार्च तक सम्पन्न होने वाले बोर्ड की बचे हुए विषय की परीक्षाओं पर रोक लगा दिया है।  कोरोना वायरस के रोकथाम व नियंत्रण के मद्दे नजर स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा एक आदेश जारी कर बोर्ड की परीक्षाओं पर तत्काल प्रभाव से रोक लगा दिया गया है। इस प्रकार 10वीं ,12 वीं की परीक्षाएं आगामी आदेश तक निरस्त रहेगा।  



यदि उच्च शिक्षण संस्थानों की बात करें तो कल दिनांक 19.03.2020 को आयुक्त उच्च शिक्षा संचालनालय द्वारा प्रदेश के समस्त विश्वविद्यालय ,समस्त महाविद्यालय में 19.03.2020 के बाद होने परीक्षाओं को स्थगित रखने का निर्देश जारी किया गया है ,इसके साथ -साथ मूल्यांकन का कार्य भी 31 मार्च 2020 तक स्थगित रखने को कहा गया है।

Post a comment

0 Comments