कलेक्टर महोदय ने किया शाला का आकस्मिक निरिक्षण.......मुख्यालय में निवास नहीं करने वाले 16 व्याख्याता एलबी को मिली ये सजा......


कलेक्टर महोदय के द्वारा शाला का आकस्मिक निरीक्षण किया गया , इस दौरान पता चला कि संबंधित संस्था के कर्मचारी मुख्यालय में निवास नहीं करते हैं। कलेक्टर महोदय के निर्देश पर जिला शिक्षा अधिकारी द्वारा मुख्यालय में निवास नहीं करने वाले 16 व्याख्याता एलबी को अन्यत्र संलग्न कर दिया गया है। 

मामला सूरजपुर जिले का है ,जहां कलेक्टर महोदय द्वारा दिनांक-15.09.2020 को निरीक्षण पर निकले थे ,इस दौरान कलेक्टर महोदय शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय सिलफिली ,विकास खंड -सूरजपुर पहुंचे ,जहां पाया गया कि संस्था के कर्मचारी मुख्यालय में निवास नहीं करते हैं। 

कलेक्टर महोदय द्वारा इस पर नाराजगी जाहिर करते हुए जिला शिक्षा अधिकारी को उक्त कर्मचारियों पर कार्यवाही के निर्देश दिए गए थे ,जिस पर जिला शिक्षा अधिकारी द्वारा त्वरित एक्शन लेते हुए शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय सिलफिली ,विकास खंड -सूरजपुर में पदस्थ 16 व्याख्याता एलबी को शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय भैयाथान विकास खंड भैयाथान में आगामी आदेश पर्यन्त तक कार्य करने हेतु आदेशित किया  गया है। 

कार्यालय जिला शिक्षा अधिकारी सूरजपुर द्वारा दिनांक 15.09.2020 को जारी आदेश में कहा गया है कि शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय सिलफिली ,विकास खंड -सूरजपुर का आकस्मिक निरीक्षण कलेक्टर महोदय के द्वारा दिनांक 15.09.2020 को किया गया जिसमे यह पाया गया कि संस्था के कर्मचारी मुख्यालय में निवास नहीं करते हैं। 

अतः कलेक्टर महोदय के निर्देश पर उक्त कर्मचारियों को शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय भैयाथान विकास खंड भैयाथान में आगामी आदेश पर्यन्त तक कार्य करने हेतु आदेशित किया जाता है। 

मुख्यालय में निवास नहीं करने वाले 16 व्याख्याता एलबी को मिली ये सजा-



कलेक्टर महोदय के निर्देश पर शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय सिलफिली ,विकास खंड -सूरजपुर के 16 व्याख्याता एलबी को मुख्यालय में निवास नहीं करने की सजा मिली है ,जिला शिक्षा अधिकारी द्वारा सभी शिक्षकों को अग्रिम आदेश पर्यन्त तक भैयाथान विकास खंड ,जिला -सूरजपुर के शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय- भैयाथान में कार्य करने का आदेश जारी कर दिया है। 

इस प्रकार शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय सिलफिली ,विकास खंड -सूरजपुर में पदस्थ 16 व्याख्याता एलबी को शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय- भैयाथान ,विकास खंड भैयाथान ,जिला -सूरजपुर में उपस्थिति देना होगा। 

👉लिस्ट देखने के लिए यहां क्लिक करें 👈


विकास खंड शिक्षा अधिकरि ने जारी किया पत्र -

विकास खंड शिक्षा अधिकारी द्वारा स्कूलों में कलेक्टर महोदय के निरिक्षण के दौरान पाए गए खामी को ध्यान में रखते हुए सर्व प्राचार्य ,हाईस्कूल /हायर सेकंडरी ,सर्व प्रधान पाठक प्राथमिक /पूर्व माध्यमिक ,विकास खंड-सूरजपुर को निम्न निर्देशों का कड़ाई से पालन करने को कहा है। 

1.सभी कर्मचारी अनिवार्यतः शाला मुख्यालय में निवास करेंगे। 

2.शाला भवन की साफ -सफाई एवं पुताई एक सप्ताह के भीतर करना होगा। 

3.शाला परिसर में घास एवं  एवं अन्य खरपतवार का साफ -सफाई एक सप्ताह की भीतर करना होगा। 

4.शाला के सभी कर्मचारियों की उपस्थिति शाला मुख्यालय में शत्प्रतिशत रखना होगा। 

5. शिक्षा विभाग के द्वारा दिए गए ऑनलाइन क्लास ,ऑफलाइन तथा अन्य शैक्षणिक गतिविधियों को covid-19 के प्रोटोकॉल का पालन करते हुए संचालित करना होगा। 



प्रस्तुत करना होगा प्रतिवेदन -

उक्त कार्यों को पूर्ण कर लेने का प्रतिवेदन सर्व प्राचार्य ,हाईस्कूल /हायर सेकंडरी ,सर्व प्रधान पाठक प्राथमिक /पूर्व माध्यमिक ,विकास खंड-सूरजपुर को संकुल केंद्र के माध्यम से प्रतिवेदन प्रस्तुत करने को कहा गया है। 

मुख्यालय में निवास करने पहले भी जारी हो चूका है आदेश -



छत्तीसगढ़ शासन सामान्य प्रशासन विभाग द्वारा पहले भी मुख्यालय में निवास संबंधी आदेश जारी किया जा चूका है ,जिसके अनुसार कर्मचारियों को मुख्यालय में ही निवास करना है। यदि मुख्यालय से अन्य स्थान पर निवासरत हैं तो मुख्यालय से निवास स्थान की दुरी 8 किलोमीटर से अधिक नहीं होना चाहिए। 

राजनांदगॉव जिले में मुख्यालय में निवास संबंधी आदेश पहले ही जारी किया जा चूका है -

कार्यालय कलेक्टर जिला राजनांदगॉव द्वारा दिनांक 03.05.2019 को एक आदेश जारी कर विकास खंड स्तरीय कार्यालयों में कार्यरत अधिकारी ,कर्मचारियों तथा हाई /हायर सेकेंडरी विद्यालय में पदस्थ प्राचार्य ,व्याख्याता ,व्याख्याता एलबी /पंचायत  तथा अन्य शिक्षक व कर्मचारियों को मुख्यालय में निवास नहीं करने पर नाराजगी जाहिर करते हुए मुख्यालय में निवास करने का निर्देश जारी किया गया था। 

लॉकडाउन में मुख्यालय नहीं छोड़ने का है आदेश -



विश्वव्यापी महामारी के कारण बंद स्कूल /कालेज /कार्यालयों के अधिकारी /कर्मचारियों को किसी भी हाल में मुख्यालय नहीं छोड़ने का आदेश है। 

उच्च कार्यालय से जारी आदेश के अनुसार लॉकडाउन के दौरान बच्चों के पाठ्यपुस्तक ,गणवेश ,मध्यान्ह भोजन के अंतर्गत सूखा राशन ,सायकल वितरण ,ऑनलाइन क्लास आदि के लिए शिक्षकों को मुख्यालय नहीं छोड़ना है। 

join our whatsapp groups -

Post a comment

0 Comments