gpf /dpf /cps employee details देखें ddo वार


दोस्तों ,छत्तीसगढ़ शिक्षा जगत से जुड़ी जानकारी के क्रम में आज हम प्रदेश में कुल gpf /dpf /cps employee details आप लोगों से साझा करने जा रहे हैं। वेतन पर्ची कैसे निकालना है ,nps की राशि कैसे पता करना है ,इसकी जानकारी हम आप लोगों से पहले ही साझा कर चुकें हैं ,उक्त जानकारी को आप हमरगॉव डॉट कॉम पर जाकर देख /पढ़ सकते हैं और पोस्ट में बताये अनुसार वेतन पर्ची,nps की राशि चेक कर सकते हैं। 

दोस्तों ,प्रदेश के साथ -साथ पुरे देश में पुरानी पेंशन बहाली की मांग की जा रही है , ऐसे में संख्या के आधार पर  gpf /dpf /cps कर्मचारियों की संख्या जानना आवश्यक हो जाता है, क्योंकि ops की संघर्ष में संख्या बल विशेष महत्व रखेगा ।

हाल ही में प्रदेश के न्यायधानी बिलासपुर में सेवानिवृत्त शिक्षिका को रिटायरमेंट में बाद nps की राशि पेंशन के रूप में 700 रूपये की राशि मिल रहा है ,जबकि सेवानिवृत्ति के समय 50000 पचास हजार रूपये प्रतिमाह वेतन मिल रहा था ,इस घटना ने मानों पुरे प्रदेश में cps कर्मचारियों की आँखे खोल दी।  

जारी है पुरानी पेंशन की मांग  -


"बुढ़ापे की लाठी" वाली कहावत तो आपने सुना ही होगा ,सोचों यदि यह लाठी आपसे छीन जाये तो आपको कैसा लगेगा ? यह वाकया घटित हो रहा है ,नवीन पेंशनधारी देश लाखों अधिकारी /कर्मचरियों के साथ। नवीन पेंशन देश के लाखों अधिकारी /कर्मचरियों का बुढ़ापे की लाठी छीनने का काम कर रही है।
 
पेंशन किसी भी कर्मचारी का रिटायरमेन्ट के बाद जीवन-यापन का आधार होता है। सेवानिवृत्ति के बाद पेंशन ही किसी कर्मचारी के आय का एक मात्र स्त्रोत होता है ,जिसके सहारे वह अपनी व अपने परिवार का भरण-पोषण करता है ,ऐसे में यदि जीवन भर वेतन से कटौती कर-कर जमा करने के बाद भी पेंशन अनिश्चित हो तो सेवानिवृत्ति के बाद का जीवन अंधकारमय हो जायेगा। 

शायद यही कारण है कि नवीन पेंशनधारी अधिकारी /कर्मचारी अपने भविष्य को लेकर चिंतित हैं और पुरानी पेंशन की बहाली की मांग को लेकर लगातर संघर्ष कर रहे हैं ,परिवारी उपवास ,सत्याग्रह संदेश के अंतर्गत ट्विटर ,फसबुक आदि के माध्यम से लगातार पुरानी पेंशन बहाली की मुहीम चलाई जा रही है। 

पुरानी पेंशन क्यों है जरूरी -


नवीन पेंशन प्राप्त अधिकारी /कर्मचारियों के अनुसार नवीन पेंशन बाजार आधारित प्लान है। नवीन पेंशन में रिटायरमेंट जो बाद जो राशि मिलना है वह उस समय के शेयर मार्केट पर निर्भर करेगा ,परन्तु पुरानी पेंशन में ऐसी बात नहीं थी। 

पुरानी पेंशन, नवीन पेंशन की तुलना में कर्मचारियों के लिहाज से ज्यादा बेहतर है। पुरानी पेंशन में रिटायरमेंट में मिलने वाली राशि की गारंटी होती थी ,परन्तु नवीन पेंशन में रिटायरमेंट में आपको कितनी राशि मिलनी है यह उस समय का बाजार तय करेगा।

gpf /dpf /cps का फूल फॉर्म -


GPF- general provident fund

DPF-development policy financing 

CPS -central provident fund 

प्रदेश में cps एम्प्लोयी की संख्या -

छत्तीसगढ़ ekosh वेबसाइट से प्राप्त आकड़ों के अनुसार प्रदेश में gpf employee संख्या 70568 है ,dpf  employee संख्या31960 है ,वहीं cps धारी कर्मचारियों की संख्या 260994 है ,इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि प्रदेश में 260994 कर्मचारियों को भविष्य खतरे में है। 

gpf /dpf /cps कर्मचारियों की ddo वार डिटेल कैसे देखें -



1.सबसे पहले आपको cg ekosh में जाना पड़ेगा,इसके लिए अपने मोबाइल के क्रोम ब्राउजर में ekosh cg टाइप कर सर्च करना है तथा ekosh के वेबसाइट पर क्लिक करना है।

आप स्क्रीनशॉट का भी मदद ले सकते हैं,इसके अलावा ekosh का लिंक भी इस आर्टिकल के अंत मे दिया जा रहा है,आप सभी बातों को ध्यान से पढ़ कर लिंक के माध्यम से ekosh में जा सकते हैं।

2. अब ekosh का होम पेज खुल जायेगा ,होम पेज पर आपको employee dashboad पर क्लिक करना है,जैसा कि नीचे स्क्रीनशॉट द्वारा दिखाया गया है।

3. इस प्रकार gpf/dpf/cps employee detail का इंटरफेस खुल जायेगा ,आप अपनी सुविधानुसार gpf/dpf कर्मचारी डिटेल चेक कर सकते हैं।ddo वार cps employee detail चेक करने के लिए आपको cps employee details के आइकन पर क्लिक करना है।

4. अब जिलावार cps कर्मचारियों की संख्या शो होने लगेगा ,आप अपने जिले या अन्य जिले का cps कर्मचारी संख्या देख सकते हैं ,इस पेज के अंत में प्रदेश में कुल cps धारकों की संख्या भी देखा सकता है। अपको अपने जिले के कालम के सामने दिए संख्या पर क्लिक करना है,जिससे ddo वार cps कर्मचारियों का संख्या शो होने लगेगा।

इस प्रकार आप प्रदेश, जिला या ddo के आधार पर cps employee detail चेक कर सकते हैं।

👉cps employee details चेक करने के लिए यहां क्लिक करें 👈


अन्य जानकारी -

पाठ्य पुस्तक डाउनलोड करें 

किसी शाला में पदस्थ शिक्षकों की संख्या जेंडरवार पता करें 

सामान्य प्रशासन विभाग सर्कुलर लिस्ट यहां देखें 

वित्त विभाग सर्कुलर लिस्ट यहां देखें 

दोस्तों ,इस जानकारी के आधार पर आप gpf/dpf/cps employee detail चेक कर अपने मुहिम को और एक नई दिशा दे सकते हैं।यह जानकारी आपको कैसा लगा कमेंट के माध्यम से हमें जरूर भेजें।


Post a comment

0 Comments