cg school.in में हुआ अपडेट......शिक्षक हो रहे हैं कन्फ्यूज.......शिक्षक लॉगिन , विद्यार्थी पंजीयन तथा मूल्यांकन के इंटरफेस तक कैसे पहुंचें


कोरोना वायरस के रोकथाम एवं नियत्रण के मद्दे नजर शाला बंद के दौरान बच्चों की बढ़ाई जारी रखने के उद्देश्य से लॉच किये गए cg school.in पोर्टल में अपडेट किया गया है ,जिससे कुछ शिक्षकों को लॉगिन , विद्यार्थी पंजीयन तथा मूल्यांकन के इंटरफेस को लेकर कन्फ्यूजन हो रहा है। 


वर्तमान में cg school.in के माध्यम से ऑनलाइन तथा ऑफलाइन क्लास ज्वाइन करने वाले विद्यार्थियों का पंजीयन तथा मूल्यांकन का चल रहा है ,  cg school.in में अपडेट होने से कुछ शिक्षक कन्फ्यूज हो रहे हैं ,आज हम आपसे इस अपडेट से जुड़ी जानकारी ही साझा करने जा रहे हैं। 

दोस्तों ,ऐसा भी नहीं है कि  cg school.in में हुए इस अपडेट से सभी शिक्षक कन्फ्यूज हैं ,परन्तु मैनू के ऑप्शन में किये गए अपडेट से शिक्षकों को इसे समझने में थोड़ा परेशानी हो रहा है। चलिए दोस्तों , cg school.in में हुए इस अपडेट के बारे में विस्तार से बताते हैं ,जिससे शिक्षक लॉगिन ,ऑनलाइन -ऑफलाइन क्लास ज्वाइन करने वाले विद्यार्थियों के पंजीयन तथा मूल्यांकन में आपको मदद मिलेगा। 

 cg school.in पहले से बेहतर तथा व्यवस्थित -

 cg school.in में किये गए अपडेट के बाद पोर्टल पहले से बेहतर तथा व्यवस्थित हो गया है ,. cg school.in के पुराने वर्जन में कुछ जानकारी ऐसा था जिसको बिना लॉगिन किये ही देख सकते थे तथा उसी जानकारी को लॉगिन करने के बाद भी देखा जा सकता था ,परन्तु अपडेट होने के बाद सिक्युरिटी फीचर में सुधार हुआ है। अब बिना लॉगिन के किसी महत्वपूर्ण डेटा के बारे में जानकारी प्राप्त नहीं किया जा सकता। 

 cg school.in में किये गए अपडेट इस प्रकार है - 

1. होम पेज -

दोस्तों ,जैसे ही आप  अपने एंड्राइड मोबाइल के ब्राउजर में cg school.in टाइप कर सर्च करते हैं।  cg school.in का home पेज खुल जाता है। होम पेज के हेडर में बायीं ओर थ्री लाइन मिलेगा ,जोकि मेनू बार है, इसके अंतर्गत डैशबोर्ड ,निजता नीति , सहायक सामग्री ,सिविल सोसाइटी ,खबर ,जिलावार शिक्षक संबंधी जानकारी का इंटरफेस मिलेगा। 

home पेज में दायीं ओर हेडर में चार प्रकार का इंटरफेस मिलेगा। विद्यार्थी पंजीयन ,शिक्षक पंजीयन ,लॉगिन ,पासवर्ड भूल गया। शिक्षक हो या विद्यार्थी लॉगिन होने के लिए लॉगिन के इंटरफेस पर क्लिक करना है। 


 2. लॉगिन पेज -

इससे पहले लॉगिन वाला पेज ऐसा नहीं था साथ ही कैप्चा कोड का ऑप्शन नहीं आता था। अपडेट के बाद इस पेज में विद्यार्थी लॉगिन होते हैं तो विद्यार्थी का आईडी ,पासवर्ड और यदि शिक्षक लॉगिन होते हैं तो शिक्षक का आईडी पासवर्ड दर्ज करना है ,इसके बाद कैप्चा कोड दर्ज कर नीचे दिए लॉगिन के इंटरफेस पर क्लिक करना है।


 3 .विद्यार्थी पंजीयन पेज -

अब  cg school.in में आपका अर्थात शिक्षक का पेज खुल जायेगा ,आपके नाम के ठीक नीचे अपडेट से पहले के जैसा चार प्रकार का इंटरफेस दिखाई देगा। 

♦ पढ़ई तुंहर पारा के अंतर्गत गतिविधियों की एंट्री 
♦ शिक्षक संबंधी विवरण 
♦ ऑनलाइन असेसमेंट के लिए विद्यार्थियों का विवरण 
♦ प्रशस्ति पत्र डाउनलोड करें

चूँकि हम हमारे पिछली पोस्ट में ऑनलाइन ,ऑफलाइन क्लास ज्वाइन करने वाले विद्यार्थी पंजीयन की जानकारी आपसे साझा कर चुके हैं ,इस लिए विद्यार्थी पंजीयन के बारे में विस्तार से नहीं बता पाएंगे ,यदि आप विद्यार्थी पंजीयन के बारे में जानना चाहते हैं तो विद्यार्थी पंजीयन संबंधी जानकारी का लिंक इस पोस्ट के अंत में उपलब्ध करा रहे हैं। 


स्टेप 4. शिक्षक लॉगिन के बाद मेनूबार तथा विद्यार्थी असेसमेंट पेज -


 cg school.in के अपडेट वर्जन से पहले लॉगिन के बाद मेनू में जाने के लिए मेनू लिखा होता था ,परन्तु अपडेट के बाद मेनू के स्थान पर थ्री लाइन दिया गया है। विद्यार्थी असेसमेंट तथा अन्य जानकारी के लिए थ्री लाइन पर क्लिक करना है ,ज्यादातर शिक्षक यहीं पर अधिक कन्फ्यूज हो रहे हैं । थ्री लाइन ही मेनू है। 

विद्यार्थी असेसमेंट के लिए थ्री लाइन पर क्लिक करते ही पासवर्ड बदलें ,शिक्षक के कार्य ,रिपोर्ट ,डैशबोर्ड ,निजता नीति जैसे विकल्प शो होने लगेगा। आपको शिक्षक के कार्य पर क्लिक करना है। 


अब शिक्षक के कार्य के अंतर्गत विद्यार्थी का असेसमेंट पर जाकर क्लिक करना है। असेसमेंट कैसे करें ,इसकी जानकारी के लिए असेसमेंट संबंधी पोस्ट का लिंक नीचे दिया जा रहा है ,आप वहां से असेसमेंट की पूरी डिटेल प्राप्त कर सकते हैं। 


अन्य जानकारी -



दोस्तों , cg school.in में किये गए अपडेट से जुड़ी कुछ उपयोगी इंटरफेस के बारे में जानकारी साझा करने का प्रयास किये हैं ,यदि आपको इसके अतिरिक्त किसी अन्य इंटरफेस से जुड़ी जानकारी चाहिए हो तो कमेंट बॉक्स में लिखकर हमें भेज सकते हैं ,हम शीघ्र ही आपके सवालों का जवाब देने का प्रयास करेंगे। धन्यवाद 

Post a comment

0 Comments