दीक्षा पोर्टल में निष्ठा ऑनलाइन प्रशिक्षण हेतु पंजीयन तथा कोर्स से जुड़ी ये सावधानी जरूर रखें


हेलो दोस्तों , जैसा कि आप सभी को विदित है, दीक्षा पोर्टल में निष्ठा ऑनलाइन प्रशिक्षण के अंतर्गत कक्षा 1 से 8 तक के शिक्षकों,प्रधान पाठकों का ऑनलाइन प्रशिक्षण 26.10.2020 से शुरू होने जा रहा है।उम्मीद है आपने उक्त प्रशिक्षण हेतु अपना पंजीयन कर लिए होंगे ,यदि नही किये हैं तो अभी भी कर सकते हैं।


दिनांक 22.10.2020 को स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा समस्त कलेक्टर छत्तीसगढ़ को पुनः पत्र जारी किया गया है,जिसमे कहा गया है कि प्रदेश में 50 प्रतिशत शिक्षकों,प्रधान पाठकों का ही पंजीयन हुआ है। कक्षा 1 से 8 तक के समस्त शिक्षकों ,प्रधान पाठकों के पंजीयन अनिवार्यतः करने की बात कही गई है।

इस पत्र में स्पष्ट कहा गया है कि इस कार्य को सर्वोच्च प्राथमिकता दिया जाय ।दोस्तों,इससे आप अंदाजा लगा सकते हैं कि यह कार्य कितना महत्वपूर्ण है। इस प्रशिक्षण में सभी शिक्षकों ,प्रधान पाठकों को पंजीयन करना अनिवार्य है।

दोस्तों ,कुछ राज्यों में दीक्षा पोर्टल में निष्ठा ऑनलाइन प्रशिक्षण के अंतर्गत शिक्षकों ,प्रधान पाठकों का ऑनलाइन प्रशिक्षण प्रारम्भ हो चूका है , इस प्रशिक्षण में पंजीयन के दौरान तथा पंजीयन के उपरांत प्रशिक्षण प्रारम्भ होने पर कुछ सावधानी रखने की बात प्रशिक्षण शुरू हो चुके राज्य के शिक्षकों द्वारा कहा जा रहा है। 

डाटा पैक हेतु राशि -

जैसाकि आप सभी को विदित है ,यह प्रशिक्षण 26 अक्टूबर 2020 से प्रारम्भ होकर 4 जनवरी 2021 तक चलना है ,ऑनलाइन प्रशिक्षण होने के कारण डाटा पैक की आवश्यकता होगी , इसके लिए 700 रूपये डाटा पैक प्रतिपूर्ति के रूप में दिया जाना है ,परन्तु उन्ही शिक्षकों को यह राशि प्राप्त होना है ,जिन्हे प्रशिक्षण पूर्ण करने पर पूर्णता प्रमाण पत्र प्राप्त होगा। 

कोर्स विभाजन -

जेनेरिक विषय - 3
शैक्षणिक रणनीतियाँ - 3
विशिष्ट शिक्षाशास्त्र -6
स्कूल नेतृत्व -6

प्रत्येक कोर्स की अवधि 3 से 4 घंटे की होगी ,इस लिए समय प्रबंधन अपने सुविधानुसार करना होगा। प्रत्येक तीन मॉड्यूल के लिए जो 15 दिवस का समय निर्धारित किया गया है ,उस निर्धारित समय पर ही मॉड्यूल को कम्प्लीट करना होगा,तभी अगला मॉड्यूल पूर्ण किया जा सकेगा। 

क्या -क्या सावधानी रखना है -

दीक्षा पोर्टल में पंजीयन से लेकर कोर्स पूर्ण करने तक कुछ आवश्यक सावधानी आपको रखना होगा , हम जिस सावधानी के बारे में आपको बताने जा रहे हैं ,यह अन्य राज्यों में चल रहे दीक्षा ऑनलाइन प्रशिक्षण के अनुभव पर आधारित हैं ,इन सावधानियों को ध्यान में रखना न रखना आपके विवेक पर निर्भर करता है। सावधानी आपको दो तरह का रखना है ,पहला-पंजीयन के दौरान और दुुसरा-पंजीयन के बाद कोर्स के दौरान। 

1.पंजीयन के दौरान-

login with state system के माध्यम से पंजीयन-

दोस्तों ,वैसे तो आप सभी राज्य कार्यालय से जारी दीक्षा ऑनलाइन प्रशिक्षण से संबंधित पत्र में बताये गए अनुसार पंजीयन पूर्ण कर चुके होंगे, परन्तु कहीं -कहीं पंजीयन में शिक्षकों को परेशानी हो रही थी। कुछ राज्यों में निष्ठा ऑनलाइन प्रशिक्षण हेतु पंजीयन के संबंध में शिक्षकों का कहना है कि उक्त प्रशिक्षण का पूर्णता प्रमाण पत्र हेतु यथा सम्भव login with state system के माध्यम से पंजीयन की बात कही गई है। 

दोस्तों ,हमारा मकसद आपको डराना नहीं है ,लेकिन यह जरूरी भी है कि राज्य कार्यालय से जारी पंजीयन संबंधी पत्र के अनुसार ही रजिस्ट्रेशन करें। राज्य कार्यालय से जारी पर में login with state system में जाकर cg school.in का आईडी ,पासवर्ड से लॉगिन करने की बात कही गई है। 

जिन शिक्षकों ने login with state system के माध्यम से पंजीयन किये हैं ,उनके प्रोफाइल में राइट का निशान लगा है ,परन्तु कुछ लोग सीधे मोबाइल नंबर या ईमेल के माध्यम से लॉगिन हुए हैं ,उनके प्रोफाइल में राइट का निशान नहीं है। ऐसे में राज्य लेबल पर आपके बारे में अर्थात पंजीयन की जानकारी पोर्टल पर शो नहीं करेगा।
 

हमने इसके बारे में कुछ जानकारियां प्राप्त करने का प्रयास किये हैं ,जिसमें यह पता चला है कि पंजीयन का सही तरीका  है login with state system के माध्यम से पंजीयन करना। यदि आप सीधे मोबाइल नंबर या ईमेल के माध्यम से पंजीयन करते हैं तो यह केंद्रीय दीक्षा पोर्टल पर पंजीकृत हो जायेगा ,राज्य दीक्षा पोर्टल में पंजीयन शो नहीं करेगा ,जिसके कारण हो सकता है आपको प्रमाण पत्र जारी न हो। 



2.पंजीयन के बाद कोर्स करने के दौरान-


कोर्स को स्किप न करें-

दोस्तों ,हम सबसे उस सावधानी के बारे में बताते हैं ,जिसको ज्यादातर शिक्षक ,प्रशिक्षण जल्द समाप्त करने के चक्कर में स्किप कर देते हैं। सरल शब्दों में कहे तो कोर्स के लिए निर्धारित समय बहुत पहले ही कोर्स पूर्ण कर लेना ,ऐसी स्थिति में राज्य स्तर पर मॉनिटरिंग कर्ता समझ जाता है कि आपने कोर्स को स्किप कर पूर्ण किया है। 

स्किप का मतलब है कोर्स को छोड़ -छोड़ कर पढ़ना। मान लीजिये कोई वीडियो क्लिप 5 मिनट का है और उसे आप 30 सेकंड या 1 मिनट में पूर्ण कर देते हैं ,ऐसा नहीं करना है ,यदि ऐसा करते हैं तो हो सकता है आपको NCERT या राज्य दीक्षा मॉनिटरिंग टीम की ओर से कोई फोन काल प्राप्त हो , इससे संबंधित आपसे कोई सवाल भी  पूछा जा सकता है ,इस लिए कोर्स को स्किप नहीं करना है। 

प्रत्येक मॉड्यूल के अंत में पोस्ट टेस्ट -

जैसाकि आप सभी को पता है इस प्रशिक्षण में कुल 18 मॉड्यूल है। प्रत्येक 15 दिन में 3 माडयूल पर प्रशिक्षण पूर्ण किया जाना है। इस प्रकार 18 मॉड्यूल को तीन महीनों में पूर्ण किया जाना है। दिसंबर के अंत तक सभी शिक्षकों को जो कक्षा 1 से 8 तक के कक्षाओं को पढ़ाते हैं ,सभी 18 मॉड्यूल पर निष्ठा ऑनलाइन प्रशिक्षण को पूर्ण करना अनिवार्य है। 

चूँकि यह कोर्स  26 अक्टूबर 2020 से प्रारम्भ होकर 4 जनवरी 2021 तक चलेगा। प्रत्येक मॉड्यूल के अंत में प्रश्नोत्तरी पूर्ण करना होगा ,जिसमे 60 प्रतिशत अंक लाना अनिवार्य होगा तभी अगला मॉड्यूल पर पहुंचा जा सकेगा। LLF की तरह इसमें भी प्रश्नोत्तरी में दो से तीन चांस मिलेगा। दूसरा चांस के लिए replay पर क्लिक करना है। और पुनः प्रश्नोत्तरी को पूर्ण करना है ,इस प्रकार आपको 60 प्रतिशत प्राप्तांक लाना है। 



कोर्स करने के दौरान नोट्स या स्क्रीनशॉट जरूर रखते जाएं-

सभी मॉड्यूल को पूर्ण करने के बाद अंत में पूर्णता प्रमाण पत्र competency based test होगा ,जिसमे सभी मॉड्यूल से जुड़े सवाल हो सकते हैं ,इस लिए प्रत्येक मॉड्यूल का विषय तथा उससे जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारियों का नोट्स जरूर बनाते चलें। आप चाहें तो मोबाइल में महत्वपूर्ण जानकारियों का स्क्रीनशॉट जरूर रखते जाएँ।

competency based test -

सभी मॉड्यूल पूर्ण करने के बाद पूर्णता प्रमाण पत्र competency based test होगा ,उस समय नोट किया हुआ जानकारी आपका काम आएगा,क्योंकि  competency based test में भी 60 प्रतिशत अंक प्राप्त करना होगा तभी आपको पूर्णता प्रमाण पत्र जारी होगा। 

सीखे हुए का कक्षा में सिखने -सिखाने की प्रक्रिया में उपयोग -

इस प्रशिक्षण में 18 मॉड्यूल के आधार पर शिक्षकों की समीक्षा की बात कही गई है ,यदि आप इस प्रशिक्षण को गंभीरता से नहीं लेते हैं तो समीक्षा के आधार पर भविष्य  तय किये जाने की बात कही गई है। इस प्रशिक्षण में सीखी गई बातों को अपने कक्षा में सिखने -सिखाने की प्रक्रिया में उपयोग जरूर करें। 


अन्य जानकारी -



दोस्तों ,इस पोस्ट में निष्ठा ऑनलाइन प्रशिक्षण हेतु पंजीयन तथा कोर्स से जुड़ी कुछ सावधानियों के बारे में आप लोगों से जानकारी साझा किया गया है , यह जानकारी आपको कैसा लगा अपना विचार कमेंट के माध्यम से हमें जरूर भेजें ,यदि आप किसी बिंदु पर डाउटफुल हैं तो वहां स्व-विवेक से काम लें। धन्यवाद 

Post a comment

0 Comments