कोविड 19 के प्रभाव एवं आर्थिक संकट के कारण पदोन्नति , क्रमोन्नति ,वेतन विसंगति .ops पर फ़िलहाल निर्णय सम्भव नही......मुख्यमंत्री

कोविड-19 के प्रभाव एवं आर्थिक संकट को ध्यान में रखते हुए फिलहाल शिक्षकों के क्रमोन्नति ,वेतन विसंगति आदि पर निर्णय सम्भव नही है ,मुख्यमंत्री ने शिक्षकों के मांगों को सुनने के बाद ये बात कही है | कोविड 19 के कारण प्रदेश में आर्थिक संकट की स्थिति बनी हुई है ,आर्थिक स्थिति में सुधार के बाद ही शिक्षकों के मांगों पर विचार किया जा सकता है |


दरअसल मुख्यमंत्री भूपेश बघेल गणतंत्र दिवस के अवसर पर ध्वजारोहण कार्यक्रम में शामिल होने कोंडागांव प्रवास पर थे , इस दौरान शिक्षकों के मांगों पर जवाब देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा है कि वर्तमान में  कोविड-19 के प्रभाव एवं आर्थिक संकट को ध्यान में रखते हुए फ़िलहाल शिक्षकों के क्रमोन्नति ,वेतन विसंगति आदि पर निर्णय सम्भव नही है |

प्रदेश में विभिन्न शिक्षक संगठनों द्वारा जनप्रतिनिधियों से ज्ञापन सौप कर लगातार पदोन्नति ,क्रमोन्नति ,वेतन विसंगति ,पुरानी पेंशन की मांग की जा रही है,अब मुख्यमंत्री के बातों से साफ़ हो गया है कि अभी शासन शिक्षकों के मांगों पर फ़िलहाल विचार करने के पक्ष में नही है |

सम्पूर्ण संविलियन के लिए अनोखा अभिवादन -

26 जनवरी को मुख्यमंत्री के कोंडागांव प्रवास के दौरान स्वामी आत्मानंद गवर्नमेंट एक्सीलेंस इंग्लिश स्कूल के उद्घाटन समारोह में जाते समय टीचर्स एसोसिएशन कोंडागांव के पदाधिकारियों द्वारा संघ के फ्लैक्स के सामने खड़े होकर फूलों का वर्षा के मुख्यमंत्री जी का सम्पूर्ण संविलियन के लिए अभिवादन कर आभार व्यक्त किया |

घोषणा पत्र में किये गये सम्पूर्ण संविलियन के वादे को पूरा करने और शिक्षाकर्मी प्रथा को समाप्त करने के लिए   शिक्षकों द्वारा मुख्यमंत्री जी के विभिन्न सभाओं के दौरान इस ऐतिहासिक निर्णय के लिए आभार व्यक्त किया जा रहा है ,इसी क्रम में कोंडागांव टीचर्स एसोसिएशन के पदाधिकारियों द्वारा फूलों का वर्षा कर आभार व्यक्त किया गया |

विश्वविख्यात आयरन क्राफ्ट से निर्मित आभार लेख भेंट  -

सम्पूर्ण संविलियन से शिक्षक शिक्षकों में कितना उत्साह है ,इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है की कोंडागांव जिला इकाई टीचर्स असोसिएशन द्वारा मुख्यमंत्री जी को विश्वविख्यात आयरन क्राफ्ट से निर्मित आभार लेख भेंट किया गया है |

रात्रि के समय सर्व समाज प्रमुख एवं कर्मचारी संगठन से मुलाकात-

रात्रि के समय सर्व समाज प्रमुखों एवं कर्मचारी संगठनों से मुलाकात के दौरान छत्तीसगढ़ टीचर्स असोसिएशन के पदाधिकारियों द्वारा मुख्यमंत्री जी को विश्वविख्यात आयरन क्राफ्ट से निर्मित आभार लेख भेंट कर ऐतिहासिक निर्णय के लिए आभार व्यक्त किया गया | जिलाध्यक्ष द्वारा शिक्षाकर्मी प्रथा को खत्म कर सम्पूर्ण संविलियन के लिए आभार व्यक्त करते हुए पदोन्नति , क्रमोन्नति ,वेतन विसंगति ,अनुकम्पा नियुक्ति ,पुरानी पेंशन बहाली के लिए मांग पत्र सौपते हुए विस्तार से मांगों को रखा गया |

मुख्यमंत्री जी ने मांगों को सुनने के बाद कोविड 19 के प्रभाव एवं आर्थिक संकट के कारण मांगों पर तत्कालिक निर्णय के असमर्थता जताई | उन्होंने कहा कि दिसम्बर माह से राजस्व में सुधार एवं आय में वृद्धि हुआ है ,आने वाले समय में शिक्षकों के मांगों पर निर्णय लिया जायेगा |

इससे स्पष्ट हैं कि शासन अभी पदोन्नति , क्रमोन्नति ,वेतन विसंगति ,अनुकम्पा नियुक्ति ,पुरानी पेंशन बहाली के सम्बन्ध में कोई निर्णय नही लेगी | 

ये रहे उपस्थित -

इस दौरान पीसीसी अध्यक्ष मोहन मरकाम ,मंत्री कवासी लखमा ,बस्तर सांसद श्री दीपक बैज ,नारायणपुर विधायक श्री चंदन कश्यप  ,केशकाल विधायक श्री संत राम नेताम के साथ -साथ प्रदेश कांग्रेस के सभी पदाधिकारी तथा अधिकारीगण उपस्थित थे |

आभार सह मांग पत्र सौपे जाने के दौरान छत्तीसगढ़ टीचर्स असोसिएशन के पदाधिकारियों के साथ -साथ अन्य कर्मचारी संगठनों के पदाधिकारी भी उपस्थित थे , जिन्होंने बारी -बारी से मुख्यमंत्री जी से अपनी समस्याओं के सम्बन्ध में चर्चा कर ,मांग पूरा करने का आग्रह किया |

Post a comment

0 Comments