इस जिले में शिक्षकों की नियमित उपस्थिति तथा ऑनलाइन /ऑफलाइन क्लास के सम्बन्ध में जारी हुआ निर्देश

विश्वव्यापी महामारी कोरोना संक्रमण के रोकथाम के मद्दे नजर शाला बंद के दौरान बच्चों के शैक्षणिक गुणवत्ता को ध्यान में रखते हुए शासन द्वारा पढ़ई तुंहर दुवार के अंतर्गत ऑनलाइन तथा ऑफलाइन क्लास का व्यवस्था किया गया है , चूँकि पिछले कुछ दिनों से स्थिति बदला है ,इस लिए कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी द्वारा ऑनलाइन तथा ऑफलाइन क्लास के सम्बन्ध में निर्देश जारी किया गया है |

कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी -रायगढ़ द्वारा शिक्षको के नियमित उपस्थिति के सम्बन्ध में निर्देश जारी किया गया है , कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी -रायगढ़ द्वारा जिले के समस्त प्राचार्य शासकीय हाई स्कूल /हायर सेकेंडरी ,सर्व विकास खंड शिक्षा अधिकारी को पत्र जारी कर शिक्षकों की उपस्थिति तथा ऑनलाइन /ऑफलाइन क्लास अधिक लेने का निर्देश दिया गया है |

उक्त आदेश से स्पष्ट है कि शिक्षकों को प्रतिदिन शाला में उपस्थिति देने होगा ,शाला में उपस्थिति देने के बाद ऑनलाइन तथा ऑफलाइन क्लास का संचालन करना होगा , कलेक्टर महोदय द्वारा जिले में ऑनलाइन तथा ऑफलाइन क्लास की संख्या में आई कमी को ध्यान में रखते हुए यह निर्णय लिया गया है |

ऑनलाइन तथा ऑफलाइन क्लास की संख्या में कमी को देखते हुए जारी किया गया निर्देश -


कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी -रायगढ़ द्वारा दिनांक 15.01.2021 को समस्त प्राचार्य शासकीय हाई स्कूल /हायर सेकेंडरी ,सर्व विकास खंड शिक्षा अधिकारी को पत्र जारी कर ऑनलाइन तथा ऑफलाइन क्लास में तेजी लाने को कहा गया है ,क्योंकि जिले से प्राप्त आकड़ों के अनुसार ऑनलाइन /ऑफलाइन क्लास की संख्या में कमी के साथ -साथ विद्यार्थियों की भागीदारी में भी कमी आई है |

रायगढ़ जिले में अक्टूबर 2020 में ऑनलाइन क्लास की संख्या 11407 तथा विद्यार्थियों की उपस्थिति 117611 थी जबकि दिसम्बर 2020 में ऑनलाइन क्लास की संख्या घटकर 7820 हो गई है तथा विद्यार्थियों की उपस्थिति 56490 है ,वहीँ अक्टूबर 2020 में ऑफलाइन क्लास की संख्या 2722 थी तथा विद्यार्थियों की उपस्थिति 16928 थी जोकि माह दिसम्बर 2020 में ऑफलाइन क्लास की संख्या घटकर 4133 तथा विद्यार्थियों की उपस्थिति 33201 हो गई है |

ऑनलाइन तथा ऑफलाइन क्लास के उक्त आकड़ों से स्पष्ट है कि जिले ऑनलाइन तथा ऑफलाइन क्लास की संख्या घटी है ,शायद यही कारण है कि कलेक्टर महोदय द्वारा उक्त मामले में संज्ञान लिया गया है |

शाला में उपस्थिति के बाद मुहल्ला क्लास -


कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी -रायगढ़ द्वारा स्पष्ट कर दिया गया है कि शिक्षकों का प्रतिदिन शाला में उपस्थिति देना होगा ,शाला में उपस्थिति के बाद ही ऑनलाइन तथा ऑफलाइन क्लास का संचालन करना होगा , उक्त निर्देश में कहीं पर भी रोस्टर की बात नही है ,इस लिए पुरे स्टॉफ को प्रतिदिन शाला में उपस्थिति देना पड़ेगा |

विद्यार्थियों को शाला बुलाने का अनुमति नही -

आदेश में एक बात का स्पष्ट उल्लेख किया गया है कि संदर्भित पत्र का आशय विद्यालय खोलने से नही है ,शाला में कक्षा संचालित नही होगा ,शिक्षकों को उपस्थिति के बाद ऑनलाइन क्लास तथा मुहल्ला क्लास लेना होगा अर्थात विद्यार्थियों को शाला नही बुलाना है | मुहल्ला क्लास में कोविड 19 निर्देशों का पालन करते हुए अध्यापन कराना होगा |

सीख कार्यक्रम को सफल बनाने हेतु निर्देश -

जिला में सीख कार्यक्रम लागू है ,जिसमे शिक्षक गाँव में उसी स्थान पर जाकर अध्यापन कार्य करेंगे तथा सीख कार्यक्रम में उनके स्वयं सेवकों का सहयोग लेना है , किन्तु कक्षा संचालन की मुख्य जवाबदारी सम्बन्धित शिक्षक की ही होगी | 


मुहल्ला क्लास शिक्षकों की जवाबदारी -

रायगढ़ जिले में सीख कार्यक्रम के अंतर्गत गतिविधि में स्वयं सेवकों का सहयोग लिया जा रहा है ,परन्तु मुहल्ला क्लास की जिम्मेदारी सम्बन्धित शिक्षक की ही होगी |

Post a comment

0 Comments