घूसखोर बाबू सस्पेंड.......पिछले कुछ दिनों से शिक्षा विभाग रिश्वत को लेकर सुर्ख़ियों में

शिक्षा विभाग पिछले कुछ दिनों से रिश्वत को लेकर सुर्ख़ियों में बना हुआ है ,प्रदेश के अलग -अलग जिलों से रिश्वत की खबरें आये दिन प्रकाशित होते रहता है , इस बार फिर से रिश्वत मांगते बाबू का ऑडियो वायरल हुआ है ,ऑडियो वायरल होने पर सम्भागीय संयुक्त संचालक के निर्देश पर रिश्वत मांगने वाले बाबू को सस्पेंड कर दिया गया है |


प्रदेश में अलग -अलग जिलों से रिश्वत का विडियो वायरल होने से विभाग का नाम धूमिल हो रहा है , पिछले कुछ दिनों से अलग -अलग जिलों से रिश्वत का विडियो /ऑडियो वायरल होने से हडकम्प मच गया है | राहत की बात यह है कि अधिकारीयों द्वारा मामले की गम्भीरता को देखते हुए तत्काल संज्ञान लिया जा रहा है | 

रिटायर्ड शिक्षक से रिश्वत की मांग -

प्राप्त जानकारी के अनुसार मामला सरगुजा जिले का है यहाँ सहायक ग्रेड 2 शशि निवेश हरवंशी रिटायर्ड शिक्षक से घुस की मांग कर रहे थे , जिसका ऑडियो वायरल हो गया था | यह ऑडियो सोशल मिडिया पर जमकर वायरल हुआ , रिश्वत मांगते ऑडियो तब अधिकारीयों तक पहुंचा तब इस संज्ञान लिया गया |

पुरे मामले का जाँच कराया गया , जाँच में मामला सहीं पाया गया ,जिसके आधार पर सहायक ग्रेड 2 शशि निवेश हरवंशी को तत्काल प्रभाव से सस्पेंड कर दिया गया है | निलम्बन अवधि में सहायक ग्रेड 2 शशि निवेश हरवंशी का मुख्यालय सरगुजा के स्थान पर जशपुर कर दिया गया है | 

DEO को भी देता हूँ -

रिश्वत मांगे जाने का जो ऑडियो वायर हुआ है ,उसमे साफ -साफ सूना जा सकता है ,कि घुसखोर बाबू द्वारा DEO को भी परसेंट देने की बात कह रहा है |

जांजगीर का मामला -

इससे पहले जांजगीर चांपा जिले के विकास खंड जैजैपुर का रिश्वत वाला ऑडियो वायरल हुआ था  ,जहाँ संकुल केंद्र जैजैपुर तथा शासकीय पूर्व माध्यमिक शाला जैजैपुर में पदस्थ प्रभारी प्रधान पाठक द्वारा इंग्लिश मीडियम स्कूल में अटैचमेंट समाप्त करने या पद पर बने रहने के लिए शिक्षकों से 10 -10 हजार रूपये की मांग की जा रही थी |

संकुल प्रभारी द्वारा अधिकारीयों को देने के नाम पर शिक्षकों से मांग की जा रही 10-10 हजार रूपये की रिश्वत का विडियो वायरल हो गया था , जिस पर कार्यवाही करते हुए संकुल केंद्र समन्वयक पर कार्यवाही किया गया था |

कवर्धा का मामला -

ठीक इसी प्रकार कवर्धा जिले में भी शिक्षा विभाग के बाबू द्वारा शिक्षक से रिश्वत की किया जा रहा था , जिसका विडियो वायरल हो गया था , सर्व शिक्षक संघ के प्रांताध्यक्ष विवेक दुबे जी के हस्तक्षेप के बाद मामला प्रकाश में आया |

सोशल मिडिया पर प्रांताध्यक्ष और बाबू के बातचित का विडियो वायरल होने के बाद घूसखोर बाबू पर कार्यवाही किया गया |

पिछले कुछ दिनों से शिक्षा विभाग रिश्वत को लेकर सुर्खियों में -

जिस प्रकार प्रदेश के अलग -अलग जिलों में रिश्वत के विडियो /ऑडियो वायरल हो रहा है ,इससे विभाग सुर्ख़ियों में बना हुआ है तथा विभाग का नाम धूमिल हो रहा है | आये दिन किसी जिले से फुल एंड फाइनल के लिए रिश्वत का विडियो वायरल हो रहा है तो किसी जिले में मेडिकल या अन्य अवकाश पास करने के नाम पर रिश्वत का विडियो /ऑडियो वायरल हो रहा है |

राहत की यह है कि मामला संज्ञान में आते ही उच्च कार्यालय द्वारा तत्काल कार्यवाही किया जा रहा है , इसके बाद भी लगातार रिश्वत के मामले प्रकाश में आ रहा है |

Post a comment

0 Comments