संकुल समन्वयक हेतु आवेदन कौन -कौन कर सकता है ,योग्यता क्या है ........पूर्व स्थापित संकुलों के शैक्षिक समन्वयकों / प्रभारियों का क्या........

पिछली आर्टिकल में हमने प्रदेश में स्वीकृत नवींन संकुल केन्द्रों की जानकारी साझा किये थे ,जिसमे हमने बताया था कि किस जिले में कितने नवीन संकुल केन्द्रों के गठन को स्वीकृति मिली है | नवीन संकुलों के पुनर्गठन की प्रक्रिया बहुत ही तेजी से चल रही है ,इसी क्रम में संकुल समन्वयक के लिए आवेदन मंगाया जा रहा है |

आज हम आपको संकुल समन्वयक के लिए आदेवन पत्र ,आवश्यक शर्ते , आवेदन के लिए योग्यता से जुड़ी जानकारी बताने जा रहे हैं ,जिससे आप भी संकुल केंद्र समन्वयक के लिए आवेदन कर सकेंगे | इसके अवाला यदि आपके मन में इससे सम्बन्धित कोई डाउट है तो नीचे दिए कमेन्ट सेक्शन में कमेन्ट कर हमें भेज सकते हैं |


छत्तीसगढ़ शासन द्वारा शिक्षा सत्र 2020 - 2021 के लिए नवीन संकुल केन्द्रों के गठन को स्वीकृति दे दिया गया है | दिनांक 11 जनवरी 2021 को छत्तीसगढ़ शासन स्कूल शिक्षा विभाग मंत्रालय , महानदी भवन ,अटल नगर नवा रायपुर द्वारा जारी आदेश के अनुसार पूर्व में संचालित 2703 संकुल केन्द्रों के अलावा 2837 नवीन संकुल केन्द्रों को स्वीकृति दिया गया है |

उक्त नवीन संकुलों के लिए संकुल समन्वयकों का चयन किया जाना है , जिसके लिए आप भी आवेदन कर सकते है |आवेदन की प्रक्रिया बहुत ही आसान है ,यदि आप भी संकुल समन्वयक के लिए आवेदन करना चाहते हैं तो आपको इस आर्टिकल को ध्यान से जरुर पढ़ना चाहिए |

संकुल समन्वयक के लिए आवश्यक योग्यता -

पुर्नगठित संकुलों के लिए संकुल समन्वयक हेतु अधिकतम उच्च वर्ग शिक्षक /प्रधान पाठक को ही प्राथमिकता दिया जाना है ,इस लिए उच्च वर्ग शिक्षक /प्रधान पाठक ही आवेदन कर सकते हैं ,यदि आपके संकुल में उच्च वर्ग शिक्षक /प्रधान पाठक संकुल समन्वयक हेतु आवेदन नही करना चाहते हैं या  उच्च वर्ग शिक्षक /प्रधान पाठक नही है ,ऐसे में उच्च कार्यालय के निर्देशानुसार आवेदन कर सकते हैं |

संकुल समन्वयक के लिए दूसरा योग्यता है ,आवेदन करने वाले शिक्षक ( उच्च वर्ग शिक्षक /प्रधान पाठक) को कम्प्यूटर / एंड्राइड मोबाइल का जानकारी होना आवश्यक है |

वहीँ यदि उच्च वर्ग शिक्षक /प्रधान पाठक हैं परन्तु एकल शिक्षकीय /द्विशिक्षकीय शाला के शिक्षक हैं तब वह आवेदन नही कर सकते |

पूर्व में स्थापित संकुलों के संकुल समन्वयकों का क्या -

चूँकि नविन संकुल केंद्र गठन के साथ ही संकुल केंद्र व्यवस्था का पुर्नगठन किया जा रहा है ,इस लिए पूर्व में स्थापित संकुलों के संकुल समन्वयक कलेक्टर एवं पदेन जिला मिशन संचालक (समद्र शिक्षा ) के अनुमोदन से यथावत कार्य करते रहेंगे ,किन्तु उनका कार्य संतोषजनक नही होने पर उनके स्थान पर उपरोक्तानुसार समिति द्वारा प्रस्तावित सूची से नवीन संकुल समन्वयक का नामांकित किया जाना है |

पूर्व संकुल प्रभारी -

चूँकि पुरे प्रदेश में संकुलों का पुर्नगठन किया जा रहा है और नये संकुल व्यवस्था के तहत स्कूल शाला हाई स्कूल / हायर सेकेंडरी के पदेन प्राचार्य को संकुल प्रभारी बनाया गया है ,इस लिए पूर्व संकुल प्रभारी को वित्तीय /अकादमिक दस्तावेज /प्रभार नविन स्कूल प्रभारी को सौप कर जिला शिक्षा अधिकारी को सूचित करना होगा |


नवीन संकुल प्रभारी -

नई शिक्षा नीति के तहत नवीन के तहत गठित नवीन संकुलों के साथ पूर्व में स्थापित संकुल केन्द्रों के लिए प्रस्तावित संकुल शाला हाई स्कूल /हायर सेकेंडरी के प्राचार्य पदेन संकुल प्रभारी होगा |

संकुल समन्वयक चयन प्रक्रिया -

संकुल पुर्नगठन हेतु संकुल समन्वयक को नामांकित करने के लिए जिला स्तर पर तीन सदस्यों की समिति का गठन किया जायेगा ,जिसमें जिला शिक्षा अधिकारी ,जिला मिशन समन्वयक (समग्र शिक्षा )एवं सम्बन्धित संकुल प्रभारी (सम्बन्धित प्राचार्य) होंगे |

समिति द्वारा प्रेषित प्रस्ताव पर कलेक्टर एवं पदेन जिला मिशन संचालक (समग्र शिक्षा ) के अनुमोदन पश्चात् संकुल समन्वयक को नामांकित किया जायेगा |

  शाला में अध्यापन के साथ -साथ संकुल के कार्य -

संकुल पुनर्गठन के पश्चात् नामांकित संकुल समन्वयक को तीन काल खंड अपने शाला में अध्यापन कार्य कराना होगा ,इसके साथ -साथ संकुल के विभिन्न कार्यों एवं अकादमिक गतिविधियों में समन्वय करना होगा | संकुल समन्वयक उच्च कार्यालय के निर्देशों ,बच्चों के आउटकम का नियमित ट्रेकिंग ,उपचारात्मक शिक्षा के लिए दिशा -निर्देश पालन एवं सहयोग करेंगे |

मध्यान्ह भोजन योजना .यू डाईस ,सामुदायिक सहभागिता , शाला अवलोकन , किसी दिवस किसी शाला में शिक्षक की कमी होने पर तात्कालिक शिक्षक व्यवस्था आदि कार्य संकुल समन्वयक द्वारा सम्पादित किये जायेंगे | कार्यों के बारे में विस्तृत जानकारी के लिए आदेश का pdf जरुर देखें |

Post a comment

0 Comments