सहायक विकास खंड शिक्षा अधिकारी से विकास खंड शिक्षा अधिकारी / सहायक संचालक (प्रशासन ) के पदों पर पदोन्नति की प्रक्रिया तेज.........शिक्षकों की पदोन्नति / क्रमोन्नति पर वर्षो से लगा है ग्रहण

सहायक विकास खंड शिक्षा अधिकारी से विकास खंड शिक्षा अधिकारी /सहायक संचालक (प्रशासन ) के पदों पर पदोन्नति हेतु 5 वर्षों की वार्षिक गोपनीय चरित्रावलियाँ तथा चल -अचल सम्पत्ति का व्यौरा उपलब्ध कराने लोक शिक्षण संचालनालय द्वारा दिनांक 11.01.2021को समस्त सम्भागीय संयुक्त संचालक ( शिक्षा ) को पत्र जारी किया गया है | शासन के ज्यादातर विभागो में पदोन्नति की प्रक्रिया चल रही है ,परन्तु शिक्षकों के पदोन्नति पर मानों ग्रहण लग गया है ,जोकि हटने का नाम ही नही ले रहा |


लोक शिक्षण संचालनालय ,छत्तीसगढ़ द्वारा दिनांक 11.01.2021को समस्त सम्भागीय संयुक्त संचालक ( शिक्षा ) को जारी किये गये पत्र अनुसार लोक शिक्षण संचालनालय द्वारा दिनांक 01.04 .2020 की स्थिति में सहायक विकास खंड शिक्षा अधिकारीयों का जो वरिष्ठता सूची जारी किया गया है ,उक्त वरिष्ठता सूची के आधार पर ही पदोन्नति दिया जाना है |

वरिष्ठता सूची में सरल क्रमांक 1 से 92 तक अंकित सहायक विकास खंड शिक्षा अधिकारीयों को मार्च 2016 से मार्च 2020 तक कुल पांच वर्षों का वार्षिक गोपनीय चरित्रावलियाँ समीक्षक अधिकारी (जिला शिक्षा अधिकारी ) तथा स्वीकृतकर्ता अधिकारी ( सम्भागीय संयुक्त संचालक ) के प्रतिहस्ताक्षर के साथ जमा करना होगा |

सम्बन्धित अधिकारी को गोपनीय प्रतिवेदन के साथ -साथ अपनी चल -अचल सम्पत्ति की जानकारी भी निर्धारित प्रपत्र में अलग से फोल्डर बनाकर तथा उक्त सभी फोल्डर को एक साथ एक फोल्डर बनाकर सम्भागीय संयुक्त संचालक कार्यालय में जमा करना होगा |सम्भागीय संयुक्त संचालक कार्यालय द्वारा उक्त गोपनीय प्रतिवेदन को 15 दिवस के भीतर निर्धारित प्रपत्र में हार्ड एवं साफ्ट कॉपी में लोक शिक्षण संचालनालय को प्रेषित किया जाना है |


शिक्षकों को वर्षों से है पदोन्नति /क्रमोन्नति का इन्तजार -

शिक्षक संवर्ग में खासकर शिक्षाकर्मी संविलियन के पश्चात् शिक्षक एलबी संवर्ग बने शिक्षकों को पदोन्नति /क्रमोन्नति का वर्षों से इन्तजार हैं ,क्योंकि शिक्षक एलबी संवर्ग को उनके पूर्व पद का न तो पदोन्नति मिला और न ही क्रमोन्नति | बहुत से शिक्षक एलबी ऐसे हैं ,जिन्हें प्रथम नियुक्ति के बाद से आज तक न तो पदोन्नति मिला है और न ही क्रमोन्नति , ऐसे में वे 15-17 साल से पदोन्नति /क्रमोन्नति की राह तक रहे हैं |

जनगणना वाले शिक्षकों की बात करें तो कई शिक्षक बिना पदोन्नति /क्रमोन्नति के ही सेवानिवृत हो रहे हैं | कुछ शिक्षक ऐसे भी हैं जिनकी नियुक्ति शिक्षाकर्मी के रूप में हुआ था ,परन्तु अब वे भी सेवानिवृत हो रहे हैं |

नई भर्ती प्रक्रिया से पहले पदोन्नति /क्रमोन्नति की मांग -

शिक्षकों द्वारा पदोन्नति /क्रमोन्नति को लेकर लगातार जनप्रतिनिधियों को ज्ञापन सौपा जा रहा है ,परन्तु शासन की ओर से अभी तक कोई सकारात्मक संकेत नही मिला है | शिक्षकों को एक और डर सता रहा है कि यदि नियमित शिक्षकों की भर्ती प्रक्रिया के बाद पदोन्नति /क्रमोन्नति दिया भी जाता है तो वे नई नियुक्ति वाले शिक्षकों से जूनियर हो जायेंगे |

छत्तीसगढ़ टीचर्स एसोसिएशन ,संयुक्त शिक्षक संघ .महाफेडरेशन जैसे शिक्षक संगठन सीधी भर्ती से पहले शिक्षक एलबी संवर्ग की पदोन्नति /क्रमोन्नति की मांग कर रहे हैं , अब देखना ये है कि शिक्षक सगठनों के मांग के आधार पर क्या नई भर्ती प्रक्रिया से पहले पदोन्नति /क्रमोन्नति मिल पाता है |

स्कूल शिक्षा विभाग में पदोन्नति के लिए एक ही पद पर 5 वर्ष का है नियम -

शिक्षक एलबी संवर्ग को उनके पूर्व पद का पदोन्नति /क्रमोन्नति नही दिया गया , वहीं स्कूल शिक्षा विभाग में संविलियन के बाद पदोन्नति के लिए एक ही पद पर 5 वर्ष का नियम लागू हो रहा है , ऐसे में शिक्षक एलबी संवर्ग नियम के पेंच में उलझे हुए हैं |

शिक्षक एलबी के पदोन्नति पर नियमित शिक्षकों ने दिया नियम का हवाला -

आज से कुछ माह पूर्व शिक्षक एलबी संवर्ग की पदोन्नति हेतु जिला शिक्षा अधिकारी तथा विकास खंड शिक्षा अधिकारी कार्यालय को DPI कार्यालय द्वारा शिक्षक एलबी संवर्ग का गोपनीय प्रतिवेदन जमा कराने का आदेश प्रसारित किया गया था |

शिक्षक एलबी संवर्ग के गोपनीय प्रतिवेदन मंगाए जाने पर छत्तीसगढ़ नियमित शिक्षक द्वारा स्कूल शिक्षा विभाग के एक ही पद पर 5 वर्षों के सेवा अवधि वाले नियम का हवाला देते हुए आपत्ति दर्ज कराया गया था ,उक्त आपत्ति के आधार पर DPI द्वारा शिक्षक एलबी एलबी संवर्ग की पदोन्नति हेतु गोपनीय प्रतिवेदन जमा करने पर लोक लगा दिया गया है |

एक ही पद पर 5 वर्ष के नियम से हो सकती है तकनीकी समस्या -

स्कूल शिक्षा विभाग के नियम के अनुसार पदोन्नति के लिए कम से कम 5 वर्ष का सेवाकाल होना आवश्यक है ,ऐसे में 2018 में एक साथ संविलियन हुए शिक्षक 2023 में एक साथ पदोन्नति के लिए पात्र हो जायेंगे ,जिससे तकनीकी समस्या हो सकती है |

अब देखना ये है कि क्या शिक्षक एलबी संवर्ग के पदोन्नति /क्रमोन्नति के पूर्व पद की सेवा का गणना किया जाता है या नही | कहीं ऐसा न हो शिक्षकों का पदोन्नति / क्रमोन्नति पेंच में ही फंसा न रह जाये ,क्योंकि नियम का हवाला देकर नियमित शिक्षकों द्वारा एलबी संवर्ग के पदोन्नति पर रोक लगाया जा चूका है |


पदोन्नति /क्रमोन्नति की आस, रिटायरमेंट का कगार -

एलबी संवर्ग के कई शिक्षक रिटायरमेंट के कागर पर खड़े हैं ,परन्तु पदोन्नति /क्रमोन्नति की आस लगता है आस ही बनकर रह जाएगी | पदोन्नति /क्रमोन्नति नही मिलने से शिक्षकों को हर माह 5 -7 हजार का नुकसान उठाना पड़ रहा है |

Post a comment

0 Comments