वित्तीय वर्ष 2020-21 कर निर्धारण 2021-22 के लिए आयकर गणना पत्रक भरने की प्रक्रिया शुरु हुआ .........ऐसे भरें अपना गणना पत्रक

aaykar ganna patrak 2020-21 pdf ,aaykar ganna patrak 2020 21 pdf download,aay ganana prapatra 2020-21,आयकर गणना पत्रक कैसे भरें 2020-21,आयकर आगणन फार्म 2020-21 pdf download,आयकर गणना प्रपत्र 2020-21 download

साथियों नमस्कार , एक बार फिर से एक नई जानकारी के साथ-स्वागत है आपका हमारे वेबसाइट shikshaklbnews.com पर , आज हम आयकर गणना पत्र फील करने से जुड़ी जानकारी साझा करने जा रहे हैं, आज का यह जानकारी बहुत ही मजेदार होने के साथ-साथ सभी शिक्षकों के लिए उपयोगी होने वाला है, इस लिए पूरी जानकारी को समय निकालकर ध्यान से जरूर पढ़ें। 

कर निर्धारण 2021-22 के लिए वित्तीय वर्ष 2020-21 में भरे जाने वाले आयकर गणना पत्रक भरने और कार्यालय में जमा करने के लिए विभिन्न DDO द्वारा अपने अधिनस्थ कर्मचारियों को आदेशित किया जा रहा है ,यदि आपके DDO द्वारा इस तरह का आदेश जारी नही किया गया है तो बहुत जल्द लिखित या मौखिक सूचना प्राप्त हो सकता है।

आयकर गणना पत्रक भरने हेतु निर्देश में समय-समय पर बदलाव होते रहता है, इससे पहले के सत्र में आयकर गणना पत्रक भरने हेतु DDO द्वारा जो आदेश जारी किया गया था ,उसमे संविलियन नही हुए शिक्षाकर्मी जो आयकर के दायरे में नही आते थे ,उन्हें भी आयकर गणना पत्रक भरने को कहा गया था ।

इस सत्र के लिए ऐसा कोई स्पष्ट आदेश तो जारी नही किया गया है ,परन्तु चूंकि सम्पूर्ण संविलियन हो चुका है इस लिए सभी शिक्षकों को आयकर गणना पत्रक भरकर अपने DDO में जमा करना होगा।

इस आर्टिकल में हम आयकर गणना पत्रक भरने की तरीके बताने के साथ-साथ आयकर गणना पत्रक और वार्षिक  वेतन गणना का फॉर्म भी उपलब्ध करा रहे हैं ,इसके अतिरिक्त हम आपको पूरे वित्तीय वर्ष का वेतन पर्ची निकालने की जानकारी भी बतायेंगे ,जिससे आपको गणना पत्रक भरने में आसानी होगी |

आयकर गणना पत्रक क्या है-

आयकर गणना पत्रक आयकर विवरण और आयकर नियमों के अनुसार आपके लिए लागू कटौती की राशी की विस्तृत गणना है |आयकर विभाग में आपके नियोक्ता द्वारा आपके आयकर स्त्रोत से टीडीएस कटौती के लिए आयकर गणना पत्रक जमा करना होता है |

आयकर गणना पत्र के आधार पर नियोक्ता द्वारा TDS की कटौती की जाती है |

शासकीय सेवकों के लिए स्पेशल छुट -

हाल ही में एक न्यूज़ प्रकाशित हुआ था ,जिसमे यह सम्भावना व्यक्त किया गया था कि भारत सरकार शासकीय सेवकों को आयकर में मिलने वाली स्पेशल छुट की सीमा को बढ़ा सकती है ,परन्तु वित्तीय वर्ष 2021 के बजट में ऐसा नही हुआ है ,इस लिए शासकीय सेवकों को मिलने वाली स्पेशल छुट की अधिकतम सीमा 50000 ( पचास हजार रूपये ) ही लागू रहेगी |

80c एवं 80ccc के तहत मिलने वाली छुट -

80 c के तहत मिलने वाली छुट सामान्य भविष्य निधि ,lic ,समूह बीमा योजना एवं परिवार कल्याण निधि राष्ट्रिय बचत पत्र तथा ब्याज ,पीपी एफ ,ULIP 1971 ,होम लोन ,ट्यूशन फीस ,टैक्स सेविंग म्युचुअल फंड निवेश ,जीवन पेंशन सुरक्षा पालिसी ,बैंक /डाक घर स्थाई जमा ,सुकन्या समृद्धि ,केन्द्रीय कर्मचारियों के लिए नेशनल स्कीम |

इस प्रकार 80c और 80ccc के तहत मिलने वाली छुट को मिलाकर अधिकतम 1,50,000 (एक लाख पचास हजार तक छुट लिया जा सकता है | धारा 80c और 80ccc के तहत मिलने वाली छुट की पूरी जानकारी आपको गणना पत्रक में मिल जाएगी |

 आप सभी कटौती को जोड़ कर रख लेंगे ,जिससे गणना पत्रक भरने में आसानी होगी |

गणना पत्रक कैसे भरें -

सबसे पहले गणना पत्र के उपर भाग में कर्मचारी का नाम पद ,आधार क्रमांक , कार्यालय का नाम , आयकर स्थायी खाता क्रमांक (पेन नंबर ) भर लेंगे | इसके बाद बिंदु क्रमांक 1 में अपना सकल वेतन लिखना है , आर्थात 1 अप्रैल 2020 से 31 मार्च 2021 तक महंगाई भत्ता , गृह भाड़ा ,मेडिकल भत्ता ,नवीन पेंशन या OLD पेशन स्कीम के तहत कटौती राशि सहित कुल वेतन को लिखना है | 

वर्ष भर का वेतन निकाले का तरीका नीचे दिया जा रहा है ,आप लिंक में जाकर वर्ष भर का कुल वेतन निकाल सकते हैं |

👉वेतन पर्ची के लिए यहाँ क्लिक करें 👈

बिंदु क्रमांक 2 में गृह भाड़ा ,यदि आपने रसीद संलग्न किया है तब ,यदि आपके लिए लागू होता है , फिर मानक कटौती 50000 को बिंदु क्रमांक 1 में दर्ज किये सकल वेतन से घटाकर लिखना है |

बिंदु क्रमांक 3 में बिंदु 1 से 2 के घटाए गये राशि को दर्ज करना है |

बिंदु क्रमांक 4 यदि आपको गृह सम्पत्ति से आय होता है तब आपको इस कालम में इनकम को दर्शाना है ,यदि आपके लिए लोगू नही होता है तो डेस कर देना है |

बिंदु क्रमांक 5 अन्य स्त्रोतों से आय ,यदि आपको विभिन्न निवेशों /FDR प्राप्त व्याज की राशि ,परीक्षा / अन्य पारिश्रमिक /कमीशन की राशि , शिक्षण शुल्क फीस प्रतिपूर्ति /ओवर टाइम भत्ता ,यदि अवयस्क बच्चे की इनकम 1500 से अधिक हो तो  उसके ठीक सामने के कालम में दर्ज करना है 

बिंदु 6 में बिंदु क्रमांक 3+4+ 5 के उक्त इनकम को जोड़ कर दर्ज करना है ,यदि आपके लिए लागू नहीं होता है तो डेस करना है। 

बिंदु क्रमांक 7. 80 c वाला है ,इसके बारे में ऊपर भाग में बता चुके हैं ,सामान्य भविष्य निधि ,lic ,समूह बीमा योजना एवं परिवार कल्याण निधि राष्ट्रिय बचत पत्र तथा ब्याज ,पीपी एफ ,ULIP 1971 ,होम लोन ,ट्यूशन फीस ,टैक्स सेविंग म्युचुअल फंड निवेश ,जीवन पेंशन सुरक्षा पालिसी ,बैंक /डाक घर स्थाई जमा ,सुकन्या समृद्धि ,केन्द्रीय कर्मचारियों के लिए नेशनल स्कीम ,की राशि को दर्ज करना है | यदि 80ccc आपके लिए लागू होता है ,इनकम दर्ज करना है अन्यथा डेस करना है| 

बंदु 8 में बिंदु क्रमांक 7 के सभी कटौती को जोड़कर लिखना है ,ध्यान ये रखना है कि कटौती की राशि में 150000 तक ही छूट ले सकते हैं | 

बिंदु क्रमांक 9 में बिंदु क्रमांक 6 की राशि को बिंदु क्रमांक 8 की राशि से घटाना है ,घटाने पर राशि शेष बच जाती है उसे बिंदु 9 में लिखना है।

👉डेमो आयकर गणना पत्रक देखने के लिए यहाँ क्लिक करें 👈

बिंदु 10 आयकर की दर ,आप कर योग्य राशि जोकि बिंदु क्रमांक 9 में लिखे हैं वह बिंदु क्रमांक 10 दिए चार्ट के किस कालम से मैच करता है ,देख सकते हैं ,आपको कर योग्य राशि में उतना प्रतिशत आयकर लगेगा। इसमें 60 वर्ष से कम उम्र और 60 से 80 वर्ष के उम्र वालों के लिए कर का प्रतिशत अलग -अलग है ,आपके उम्र के अनुसार आपके लिए कौन सा चार्ट आपके लिए लागू होता है ,देख लेना है।

बिंदु क्रमांक 11 में आपको 12,500 रूपये का और छूट मिलेगा , जब आपका कर योग्य राशि 5,00,000 तक होगा।

बिंदु क्रमांक 12 में बिंदु क्रमांक 10 की राशि में बिंदु क्रमांक 11 में दिए गए 12500 के छूट को घटाने  बाद कर योग्य राशि को लिखना है। 

बिंदु 13 में स्वास्थ्य और शिक्षा अधिभार 4 प्रतिशत अलग से लगेगा उसे लिखना है ,यह कर योग्य राशि का 4 % होगा। 

बिंदु क्रमांक 14 में बिंदु 12 और 13 (स्वास्थ्य और शिक्षा अधिभार ) को जोड़कर लिखना है। 

बिंदु 15 धारा 89(1 ) के तहत रिलीफ 

बिंदु 16 शुद्ध आयकर की राशि (14-15 )

बिंदु 17 आपके ddo द्वारा डिडक्ट किये गए राशि को लिखना है। 

बिंदु 18 आपके ddo द्वारा डिडक्ट किये गए राशि को घटाने पर कितना राशि आयकर के लिए और शेष बच रहा है उसे लिखना है। मान लीजिये आपके ddo द्वारा 11 माह में 1000 रूपये पर मंथ के  हिसाब से 11000 राशि काटा गया है और आपका कर योग्य राशि 12000 है तब कर योग्य राशि 12000 बिंदु 17 के 11000 को घटाने पर 1000 बचेगा ,अर्थात 1000 रूपये और ddo से डिडक्ट करा सकते हैं। 

इस प्रकार आप आसानी से अपना गणना पत्रक भर सकते हैं, यदि किसी प्रकार की कोई कंफ्यूजन होती है तो डेमो आयकर गणना पत्रक को जरुर देखें ,इससे किस बिंदु में क्या भरना है स्पष्ट हो जायेगा | 

👉 गणना पत्रक का pdf फॉर्मेट यहां से डाउनलोड करें 👈

यह जानकारी सभी शिक्षकों के लिए बहुत ही उपयोगी है ,क्योंकि गणना पत्रक भरने का कार्य शुरू हो चूका है ,इस  लिए इस जानकारी को सभी शिक्षकों को अधिक से अधिक शेयर जरूर करें ,यदि गणना पत्रक भरने में कोई परेशानी होती  है तो कमेंट सेक्शन में लिखकर हमें भेज सकते हैं।   

join our whatsapp groups -

Post a Comment

2 Comments

  1. बिहार सरकार के शिक्षकों के लिए एक्सेल फॉर्मेट है क्या सर?

    ReplyDelete