कोरोना काल में बच्चों का पढ़ाई अनवरत जारी रखने के लिए छत्तीसगढ़ को ई गवर्नेंस अवार्ड

रायपुर 13 फरवरी 2021 कोरोना काल में बच्चों का पढ़ाई जारी रखने के लिए छत्तीसगढ़ शासन द्वारा पढ़ई तुंहर दुवार योजना का शुरूआत किया गया है ,जिसके माध्यम से शाला बंद के दौरान शिक्षकों द्वारा ऑनलाइन /ऑफलाइन क्लास संचालित किया जा रहा है और बच्चों के शैक्षणिक गुणवत्ता में सुधार हेतु निरंतर प्रयास किया जा रहा है |


कोरोना संक्रमण के प्रभाव को देखते हुए राज्य सरकार द्वारा शाला संचालन की अनुमति नही दी गई है ,ऐसे में पढ़ई तुंहर दुवार योजना के अंतर्गत ऑफलाइन -मोहल्ला क्लास ,बुलटू के बोल ,लाउड स्पीकर क्लास,मोटरसाइकिल गुरु के साथ -साथ ऑनलाइन क्लास का संचालन शिक्षकों द्वारा किया जा रहा है |

विभिन्न राज्यों द्वारा कोरोना के कारण शाला बंद के दौरान बच्चों का पढ़ाई जारी रखने का विभिन्न ऑनलाइन /ऑफलाइन योजनाओं का शुरुआत किया गया , जिसमे से छत्तीसगढ़ के पढ़ई तुंहर दुवार योजना को ई गवर्नेंस अवार्ड से नवाजा गया है |

उच्चर प्रदेश के राजधारी लखनऊ में कम्प्यूटर सोसाइटी ऑफ़ इण्डिया द्वारा केंद्र तथा राज्य सरकारों द्वारा कोरोना काल के दौरान शाला बंद की स्थिति में बच्चों की पढ़ाई जारी रखने के लिए किये जा रहे नवाचारी प्रयासों का पहचान कर बेस्ट प्रैक्टिसेस वाले योजनाओं का चिन्हांकन किया गया ,जिसमे छत्तीसगढ़ का पढ़ई तुंहर दुवार योजना ई गवर्नेंस अवार्ड के लिए चुना गया |

पढ़ई तुंहर दुवार योजना के लिए दिए गये ई गवर्नेंस अवार्ड को लोक शिक्षण संचालक एवं समग्र शिक्षा के प्रबंध सञ्चालक जीतेन्द्र शुक्ला ने उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के हाथों ग्रहण किया |

पढ़ई तुंहर पारा योजना का ऐसे हुआ चयन -

 कम्प्यूटर सोसाइटी ऑफ़ इण्डिया द्वारा आयोजित समारोह में केंद्र और राज्य सरकारों द्वारा किये जा रहे विभिन्न नवाचारी प्रयासों का पहचान कर बेस्ट प्रैक्टिसेस को महत्व देते हुए उन्हें और विस्तृत करने के उद्देश्य से दस्तावेजीकरण किया जाता है ,इस अवार्ड के लिए चयन हेने से पहले कार्यक्रम का गहन मूल्याङ्कन किया जाता है , इसके साथ-साथ कार्यक्रम का क्षेत्र में प्रभाव की स्थिति भी देखा जाता है |  

पढ़ई तुंहर दुवार योजना कम्प्यूटर सोसाइटी ऑफ़ इण्डिया द्वारा किये गये सर्वे में खरा उतरा क्योंकि पढ़ई तुंहर दुवार योजना कोरोना काल में बच्चों को पढ़ाने में मददगार साबित हुआ है | छत्तीसगढ़ की ओर से अवार्ड प्राप्त करने लोक शिक्षण संचालक एवं समग्र शिक्षा के प्रबंध सञ्चालक जीतेन्द्र शुक्ला के साथ -साथ समग्र शिक्षक के सहायक संचालक एम सुधीश एवं एनईसी से श्रीमती ललिता वर्मा मौजूद थी |

मुख्यमंत्री और शिक्षामंत्री ने दी बधाई -

केंद्र तथा राज्य सरकारों के नवाचारी प्रयासों में से पढ़ई तुंहर दुवार योजना को ई गवर्नेंस अवार्ड प्राप्त होने पर इस उपलब्धि के लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने शिक्षा मंत्री डॉ प्रेमसे सिंह टेकाम एवं प्रमुख सचिव डॉ आलोक शर्मा एवं पूरी टीम को बधाई दी है |

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल इस पुरस्कार को छत्तीसगढ़ के उन सभी सक्रीय शिक्षकों को समर्पित किया है ,जिन्होंने कोरोना महामारी जैसे विषम परिस्थितियों के बाद भी बच्चों का पढ़ाई जारी रखा |

शिक्षकों को फिर भी नही मिला कोरोना वारियर्स का दर्जा-

प्रदेश में कोरोना संकट के समय शिक्षकों ने अपने कर्तव्य ऑनलाइन /ऑफलाइन क्लास के साथ -साथ इस महामारी में राज्य के एनी कर्मचारियों के साथ कंधे से कन्धा मिला कर कार्य किये ,कई शिक्षक कोरोना ड्यूटी करते हुए संक्रमित होकर काल के मुह में भी स्म गये ,परन्तु उन्हें कोरोना वारियर का दर्जा नही दिया गया | शिक्षक एलबी लेटेस्ट न्यूज़ के लिए हमारे टेलीग्राम ग्रुप जॉइन जरूर करें

Post a comment

0 Comments