सरल कार्यक्रम के अंतर्गत GP APP में पंजीयन तथा विद्यार्थी डाटा एंट्री की पूरी जानकारी

हेलो फ्रेंड्स ,आपका अपना जाना पहचाना वेबसाइट shikshaklbnews.com पर एक बार फिर से स्वागत है | फ्रेंड्स हाल ही में सरल कार्यक्रम के अंतर्गत CAC ,अन्य स्त्रोत पर्सन द्वारा आपके स्कूल के कक्षा 3 से 5 कुछ विद्यार्थियों के स्तर का जांच किया गया होगा , यदि नही किया गया है तो इसका मतलब है ,प्रैक्टिस क्लास के लिए आपके स्कूल का चयन नही किया गया होगा |

वर्तमान में CAC या अन्य स्त्रोत पर्सन द्वारा सरल कार्यक्रम के अंतर्गत विद्यार्थियों का बेस लाइन टेस्ट डेमो के रूप में किया जा रहा है ,इसके बाद teacher ,head master के लिए भी विकल्प दिया गया है , बहुत जल्द शिक्षक /प्रधान पाठक को भी सरल कार्यक्रम के अंतर्गत विद्यार्थियों का बेस लाइन ,मिड लाइन फिर अंत में इंड लाइन टेस्ट करने का आदेश जारी होना है ,कुछ विकास खण्डों में शिक्षकों का प्रशिक्षण शुरू भी हो गया है आपको इसके लिए तैयार रहना होगा |

आज हम आप सभी शिक्षक साथियों के लिए सरल कार्यक्रम से जुड़ी जानकारी लेकर आयें ,जिसके मदद से आप सरल कार्यक्रम हेतु पंजीयन के साथ विद्यार्थियों के टेस्ट से जुड़ी जानकारी आसानी से GP APP में एंट्री कर पाएंगे | यदि आप शिक्षक या प्रधान पाठक हैं तो आपको इस जानकारी को ध्यान से जरुर पढ़ना चाहिए |

सरल कार्यक्रम -

सरल कार्यक्रम के अंतर्गत प्रैक्टिस शाला के कक्षा 3 से 5 के विद्यार्थियों में से कुछ -कुछ विद्यार्थियों का चयन कर उन विद्यार्थियों का APP में दिए गये आउटकम के आधार पर बेस लाइन टेस्ट करना है , इसके बाद उन विद्यार्थियों को आउटकम के आधार पर तीन घरों में बांटना है लाल घर , पीला घर और हरा घर | 

सरल कार्यक्रम के अंतर्गत विद्यार्थियों का इंड लाइन स्तर सुधार हेतु 30 मई 2021 तक का लक्ष्य रखा गया है ,ऐसे में इस बार ग्रीष्मकालीन अवकाश की संभावना बहुत कम है।

चयन किये गये विद्यार्थियों को तीन घर अर्थात स्तर में बाँटने के बाद अध्यापन कार्य कराना है , इसके बाद मिड लाइन टेस्ट लेना है ,फिर जिन विद्यार्थियों के स्तर में सुधार होगा ,उनको अगले घर में रखना है ,अंत में इंड लाइन टेस्ट लेना है |

दो विषय में बच्चों का स्तर जाँच -

आपको हिंदी और गणित में बच्चों का बेस लाइन /मिड लाइन /इंड लाइन टेस्ट लेना है , बेस लाइन बच्चों का वर्तमान स्तर का टेस्ट है ,इसके बाद बच्चों को अध्यापन कार्य कराने के बाद मिड लाइन टेस्ट फिर अंत में इंड लाइन टेस्ट लेना है |

बेस लाइन टेस्ट के बाद बच्चों के स्तर के आधार पर लाल घर ,पीला घर और हरा घर में बाँट कर अध्यापन कार्य कराना है ,जैसे -जैसे स्तर में सुधार होगा बच्चे का घर भी बदलता जायेगा |

स्तर के आधार पर ग्रुप (घर ) -

लाल घर अर्थात भाषा /गणित का बेसिक जानकारी ,,नीला घर अर्थात सामान्य स्तर के बच्चे और हरा घर मतलब उच्च स्तर के बच्चे | हिंदी और गणित में किसी बच्चे का स्तर अलग अलग हो सकता है , इस लिए विषय अनुसार बच्चे का घर बदल सकता है |

GP APP  इंस्टॉलेशन -

सबसे पहले आपको अपने मोबाइल के play store को ओपन है ,उसके बार play store के सर्चबार में gp app टाइप कर सर्च करना है ,स्क्रीनशॉट द्वारा दिखाए गये GP pratham partnerships  app को इंस्टाल करना है | आपको ध्यान यह रखना है कि प्रथम एजुकेशन फाउंडेशन द्वारा डेवलप्ड app को ही इंस्टॉल करना है |

GP app में पंजीयन -

इंस्टॉल हो जाने के बाद app को open करना है जिससे मोबाइल नम्बर और पासवर्ड का इंटरफेस दिखाई देगा चूँकि आप app में पहली बार login हो रहे हैं ,इस लिए आपको अपना रजिस्ट्रेशन करना होगा ,इसके लिए ceate account पर क्लिक करना है |

अब दिए गये इंटरफेस में name ,last name ,gender ,mobile number दर्ज करना है ,इसके बाद password  बनाना है फिर confirm password करना है |

choose user में government चयन करना है ,फिर state में chhattisgarh चयन करना है | इसके बाद activation code में छत्तीसगढ़ के लिए  7650 दर्ज करना है ,इसके बाद choose personnel type में block master trainer /CAC /teacher /HM /block level officer आदि का चयन करना है। अंत में SIGN UP पर क्लिक करना है |


इस प्रकार आपका पंजीयन पूर्ण हो जायेगा  और आप app में लॉगिन करने के लिए रेडी हो जायेंगे। 

GP app में विद्यार्थी डाटा ( विद्यार्थी का स्तर ) कैसे एंट्री करें -

पंजीयन के बाद अब सीधे app में लॉगिन हो जायेगा तथा आपसे कुछ परमिशन चाहेगा आपको allow पर क्लिक करना है ,यदि आप बाद app से बाहर आ गए हैं तो  mobile number और password के मदद से login हो जाना है , इसके लिए पंजीकृत mobile number और password को इंटर कर login पर क्लिक करना है। 

अब my schools ,custom forms ,assessment reports, visit reports ,teacher resources, my profile का इंटरफेस लोगो सहित दिखाई देगा ,यदि आप teacher या Head master हैं तो आपको my schools पर क्लिक करना है |इसके बाद एक न्यू पेज खुल जायेगा जिसमे add schools का plus (+) इंटरफेस दिखाई देगा ,इस पेज में सबसे पहले gaon ki kahani  वाले इंटरफेस में ड्रापडाउन से STD 3-5 saral program का चयन करना है ,इसके बाद plus (+) के आइकॉन पर क्लिक करना है |

इसके बाद  district , block /URC , cluster /ward का इंटरफेस दिखाई देगा आपको अपना जिला ,विकास खंड ,संकुल का चयन करना है | इसके बाद आपके संकुल में आने वाले सभी स्कूलों का नाम शो होने लगेगा ,आपको उक्त सूची से अपने शाला के नाम को चयन कर लेना है और नीचे भाग में दिए show selected पर क्लिक करना है |

अब आपके स्कूल के नाम के ठीक नीचे तीन प्रकार का कोड दिखाई देगा (T) TESTING , (v) VERIFICATION , (0) visit ,चूँकि अभी बच्चों का टेस्ट नही लिया गया है इस लिए T ,V, 0 दिखाई देगा | 


अब बच्चों का टेस्ट करने के लिए स्कूल के नाम के ठीक नीचे लिखे T पर क्लिक करना है ,हम पहले ही आपको बता चुके है कक्षा 3 से 5 के चयन किये हुए बच्चों का तिन बार टेस्ट लेना है ,बेस लाइन ,मिड लाइन और इंड लाइन | अभी आपको बेस लाइन टेस्ट लेना है 

T क्लिक करते ही plus (+) का आइकॉन दिखाई देगा ,click here to add new test (+)  पर आपको क्लिक करना है | क्लिक करते ही एक न्यू पेज खुल जायेगा ,इस पेज में आपको टेस्ट से जुड़ी डाटा इंटर करना है -

date of test -

select one- शिक्षक यदि बेस लाइन /मिड लाइन / इंड लाइन का डाटा दर्ज करता है तो intervention data को सेलेक्ट करना है |

O B/L   O M/L   O E/L चूँकि आप बेस लाइन टेस्ट ले रहे हैं ,इस लिए B/L के सामने दिए गोले पर टिक करना है |

class 3                 class 4                 class 5 

total enrolled-   total enrolled-   total enrolled-

total tested-      total tested-     total tested- 

language learning levels

beginner        beginner                   beginner 

letter              letter                          letter   

word              word                           word

paragraph    paragraph                 paragraph

story              story                          story

math learning levels

beginner       beginner                 beginner    

इस प्रकार क्लास के सीध में उपर से नीचे की ओर बच्चों का स्तरवार संख्यात्मक जानकारी दर्ज करना है अंत में save पर क्लिक करना है | इसके बाद डाटा को सिंक करना है ,जिससे डाटा राज्य स्तर पर पोर्टल के माध्यम से पहुँच जायेगा |

इस प्रकार बच्चों का बेस लाइन टेस्ट पूर्ण हो जायेगा ,इसके बाद बच्चों को उनके स्तरवार ग्रुप में बाँटकर पढ़ाना है फिर उच्च कार्यालय के निर्देशानुसार मिड लाइन टेस्ट लेना है | 

👉भाषा आधारित दक्षता डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें 👈

👉गणित विषय का दक्षता डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें 👈

फ्रेंड्स ,यह जानकारी आपको कैसा लगा कमेन्ट के माध्यम से हमें अपनी प्रतिक्रिया जरुर भेजें , इस जानकारी को शेयर और जरुर करें ताकि अधिक से अधिक शिक्षकों को सरल कार्यक्रम के अंतर्गत GP app के माध्यम से बच्चों के ऑनलाइन टेस्ट की जानकारी मिल सके |

Post a comment

2 Comments