परीक्षा आयोजन को लेकर cm का बड़ा बयान.........स्थिति को देखते हुए इस तरीके के परीक्षा पर करेंगे विचार

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल किसी भी विषय पर अपने बेबाक विचार रखने के लिए जाने जाते हैं । पत्रकारों द्वारा प्रदेश जुड़ी विभिन्न समस्याओं को लेकर पूछे गये सवाल का जवाब मुख्यमंत्री ने अपने चिरपरिचित अंदाज में दिया ,उन्होंने लॉकडाउन तथा परीक्षा को लेकर भी पत्रकारों को जवाब दिया |


दरअसल मुख्यमंत्री एक निजी चैनल के कार्यक्रम में शामिल होने न्यायधानी बिलासपुर पहुंचे थे ,इस दौरान उन्होंने किसानों को भी भरोसा दिलाया कि राजीव गाँधी न्याय योजना की राशि शीघ्र ही किसानों के खाते में पहुँच जाएगा | पत्रकारों द्वारा परीक्षा के सम्बन्ध में पूछे गये सवाल पर मुख्यमंत्री ने स्पष्ट कहा है कि स्थिति को देखते हुए ऑफलाइन परीक्षा के स्थान पर परीक्षा के ऑनलाइन तरीके पर विचार किया जा सकता है |

लॉक डाउन को लेकर ये बातें कही -

देश में एक बार फिर से कोरोना के बढ़ते मामले ने केंद्र तथा राज्य सरकारों को सोचने पर मजबूर कर दिया है ,छत्तीसगढ़ में पिछले कुछ दिनों से कोरोना संक्रमण एक बार फिर से जोर पकड़ रहा है ,प्रदेश में लगातार कोरोना के केस बढ़ रहे हैं | प्रदेश में कोरोना के बढ़ते मामले के कारण लॉकडाउन को लेकर पत्रकारों द्वारा पूछे गये सवाल के जवाब ने मुख्यमंत्री ने कहा कि लॉकडाउन के कारण मजदूरों और दुकानदारों को परेशानियों का सामना करना पड़ा था | मजदूरों और दुकानदारों के परिशानियों को देखते हुए फिलहाल लॉकडाउन को लेकर कोई निर्णय नही लिया जाएगा  |  

परीक्षा के ऑनलाइन तरीके पर विचार  -

प्रदेश में कोरोना के बढ़ते मामले और परीक्षा के ऑफलाइन संचालन को लेकर कर पूछे गये सवाल के जवाब में मुख्यमंत्री ने कहा है कि स्थिति में सुधार नही होने पर ऑफलाइन परीक्षा के स्थान पर ऑनलाइन परीक्षा पर विचार करेंगे |

ज्ञात हों कि प्रदेश में सत्र 2021-22 के लिए बोर्ड कक्षाओं का टाइम टेबल जारी किया जा चूका है | माध्यमिक शिक्षा मंडल रायपुर द्वारा जारी टाइम टेबल के अनुसार सत्र 2021-22 की बोर्ड परीक्षा 3 मई से शरू होना है | 

ऑफलाइन परीक्षा में कोरोना संक्रमित बच्चों के लिए व्यवस्था -

छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल रायपुर द्वारा जारी टाइम टेबल के अनुसार ऑफलाइन परीक्षा लिया जाना है ,इसके लिए विभाग द्वारा तैयारी शुरू कर दी गई ,परन्तु ऑफलाइन परीक्षा के दौरान यदि कोई विद्यार्थी कोरोना संक्रमित पाया जाता है तो उसके परीक्षा के लिए किस प्रकार व्यवस्था किया जाएगा स्पष्ट नही है |

परीक्षा मई में होना है ,इस लिए इस सम्बन्ध में माध्यमिक शिक्षा मंडल द्वारा कोई वैकल्पिक व्यवस्था जरूर कर लिया जायेगा ,खैर इसके लिए अभी समय है ,परन्तु इसके लिए कोई वैकल्पिक व्यवस्था जरुरी भी है क्योंकि प्रदेश में एक बार फिर से कोरोना के मामले बढ़ते जा रहे हैं |

किसी किसान की जमीन नही हथिया सकेंगे भूमाफिया -

मुख्यमंत्री एक अन्य सवाल के जवाब में कहा कि भूमाफिया और रेत चोरी पहले से ही होता रहा है ,हमने इसमें कड़ाई किये हैं | रेत के अवैध खनन का शिकायत मिलने पर शक्त कार्यवाही करेंगे | भूमाफिया किसी किसान की जमीन नही हथिया सकेंगे |

Post a comment

0 Comments