अब अधीक्षिका सहित पांच छात्राएं कोरोना पॉजिटव

प्रदेश में स्कूल खुलने के बाद मानो कोरोना ने यूटर्न ले लिया है ,अब एक और जगह से कोरोना संक्रमित होने की खबर आ रही है ,इस बार अधीक्षिका सहित पांच छात्रों के कोरोना संक्रमित होने की खबर है । इससे पहले राजनंदगांव ,सूरजपुर ,सरगुजा जिले में स्कूली छात्र -छात्राओं के कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि हो चुकी है |


जशपुर जिले के एकलव्य आवासीय आदर्श आवासीय विद्यालय में उस समय हडकंप मच गया ,जब अधीक्षिका सहित पांच छात्राओं का रिपोर्ट पॉजिटिव आया | प्राप्त जानकारी के अनुसार मामला 27-28 फरवरी है सबसे पहले अधीक्षिका में ही कोरोना के लक्षण पाए गये थे ,जिसका सेम्पल लिया गया था ,सेम्पल पॉजिटिव आने के बाद परिसर के छात्राओं का सेम्पल लिया गया था |

छात्राओं के सेम्पल का जाँच किया गया ,जिसमे से पांच छात्राओं का रिपोर्ट पॉजिटिव आया है , जिन्हें कोविड अस्पताल में भर्ती किया गया है ,वहीं एकलव्य आवसीय विद्यालय को बाहरी लोगों के लिए सील कर दिया गया है तथा डॉक्टरों की टीम द्वारा बाकी सभी छात्राओं का सेम्पल लिया जा रहा है | 

रिपोर्ट आने के बाद कोरोना पॉजिटिव की संख्या बढ़ सकती हैं , फ़िलहाल कोरोना पॉजिटिव अधीक्षिका सहित कोरोना संक्रमित सभी छात्राएं खतरे से बाहर हैं , अस्पताल में सभी का इलाज चल रहा है |प्राप्त जानकारी के अनुसार अब तक 73 छात्राओं का टेस्ट हो चूका है ,जबकि150 से अधिक छात्राओं का सेम्पल पहले ही लिया जा चूका है |

इस तरह लिया गया स्कूल खोलने का निर्णय -

राज्य सरकार द्वारा 13 फरवरी 2021 को केबिनेट की बैठक में कक्षा 9 से 12 तथा कालेजों का खोलने का निर्णय लिया गया ,केबिनेट हुए निर्णय के आधार पर 15 फरवरी 2021 से कक्षा 9 से 12 तक के कक्षाओं नियमित सञ्चालन शुरू हो चूका है ,परन्तु स्कूल खुलने के महज तीन दिन बाद ही राजनंदगांव से स्कूली छात्रों में कोरोना का पहला केस मिला था ,तब से किसी न किसी जिले में स्कूली बच्चों में कोरोना के सामने आ रहे हैं |

शाला खुलने के बाद बढ़ता कोरोना के आकड़े -

प्रदेश में कोरोना पूरी तरीके से खत्म नही हुआ है ,परन्तु लगातार कोरोना के केस घट रहा था | शाला खुलने के बाद से एक बार फिर कोरोना संक्रमितों की संख्या में वृद्धि हो रही है ,इसमे से ज्यादातर मामले स्कूली छात्र -छात्राओं का है | स्कूलों में पर्याप्त सावधानी बरतने की आवश्यकता है | मास्क ,सेनेटाइजर और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन ही कोरोना के संक्रमण को कम कर सकता है। 

छत्तीसगढ़ शासन के स्कूल खोलने के निर्णय को चुनौती -

भिलाई निवासी छत्तीसगढ़ छात्र -पालक संघ के अध्यक्ष नजरुल खान ने हाई कोर्स बिलासपुर में याचिका दायर की है और सरकार के शाला खोलने के फैसले को चुनौती दी है | याचिका में कहा गया है अभी प्रदेश में कोरोना के नये-नये मामले सामने आ रहे हैं | प्रदेश में अभी कोरोना खत्म नही हुआ है ,इस लिए अभी स्कूल नही खुलना चाहिए |

छात्र -पालक संघ के याचिका पर सुनवाई चल रही है ,उसके बाद ही स्थिति स्पष्ट हो पायेगी |

Post a comment

0 Comments