राष्ट्रीय स्तर पर पहचान बनाने हेतु नवाचारी शिक्षकों के लिए सुनहरा अवसर

साथियों नमस्कार , कोरोना काल में अपने नवाचारी आडियाज के कारण शिक्षकों ने प्रदेश का मान बढ़ाया है , हाल ही में आपके कर्तव्यनिष्ठा के कारण कोरोना काल में बच्चों के लिए अनवरत शिक्षा मुहैया कराने के लिए छत्तीसगढ़ को ई-गवर्नेंस अवार्ड प्रदान किया गया है | प्रदेश के शिक्षकों द्वारा इजाद किया गया लाउडस्पीकर क्लास ,बुलटू के बोल ,मोटरसाइकल गुरु जी आदि को बहुत सराहा गया है | माननीय प्रधानमंत्री जी द्वारा मोटरसाइकल गुरु जी का मन की बात  कार्यक्रम में  तारीफ भी किये थे |


आप शिक्षक जनों के प्रयास से प्रदेश में ऑनलाइन क्लास, मोहल्ला क्लास ,बुलटू के बोल,लाऊडस्पीकर क्लास जैसे नवाचारी विधियों का सफल संचालन सम्भव हुआ और बच्चों को कोरोना काल मे भी बेहतर शिक्षा मिलता रहा है , कई शिक्षक अपने नवाचारी आइडियाज के कारण राज्य स्तर पर पहचान भी बना चुके है |

राज्य स्तर से कोरोना काल में बच्चों की पढ़ाई अनवरत जारी रखने के कारण शिक्षकों को सम्मानित भी किया जा चूका है , अब बारी है राष्ट्रिय स्तर पर पहचान बनाने की | जी हाँ ! यदि आप कोरोना काल के दौरान बच्चों के पढ़ाई अनवरत जारी रखने के लिए कुछ नवाचारी प्रयास किये हैं तो आपके लिए राष्ट्रिय स्तर पर पहचान बनाने के लिए सुनहरा अवसर हैं |


आपको इस पोस्ट के अंत में एक गूगल फॉर्म उपलब्ध कराया जा रहा है ,जिसमें अपने नवाचारी प्रयासों के बारे में जानकारी देना है , जिसे भारत सरकार शिक्षा मंत्रालय द्वारा संकलित कर दस्तावेजीकरण किया जायेगा |

क्या है योजना -

भारत सरकार शिक्षा मंत्रालय द्वारा कोरोना के दौरान शिक्षा में जो भी नवाचार हुआ है ,उसके बारे में जानकारी संकलित कर एक दस्तावेज तैयार किया जा रहा है | शिक्षकों द्वारा जिलों में कोरोना वारियर के रूप में कैसे काम किया गया  है / शिक्षकों के क्षमता विकास के लिए आपने कैसे काम किया है / आपके जिले ,ग्राम ,स्कूल में क्या काम हुआ / आदि के बारे में अंग्रेजी में जानकारी गूगल फॉर्म में दर्ज करना है |

कार्यक्रम का स्तर -

भारत सरकार द्वारा तैयार किये जा रहे दस्तावेज में स्थान हेतु जिला /स्कूल स्तर पर कोरोना काल में किये गये नवाचारी गतिविधि को शामिल किया जा सकता है | यदि आपने एक शिक्षक के रूप में सोशल मीडिया या कोरोना वारियर के रूप में कार्य किये हैं तो भी गूगल फॉर्म के माध्यम से जानकारी सबमिट कर सकते हैं |

किस क्षेत्र में कार्य किया गया है -

डिजिटल सुविधा विहीन क्षेत्रों में कार्यक्रम 
डिजिटल सुविधा युक्त क्षेत्रों में कार्यक्रम 
आउट ऑफ़ स्कूल के लिए कार्य 
बालिका शिक्षा के लिए कार्य 
विशेष आवश्यकता वाले बच्चों के लिए कार्य शिक्षकों के क्षमता विकास के लिये कार्य  
पालकों के साथ कार्य 
सोशल मिडिया का उपयोग 
कोरोना वारियर के रूप में शिक्षक 

गूगल फॉर्म -

* जिला -
* विकास खंड -
* आपका नाम -
   स्कूल का नाम यदि स्कूल स्तर पर काम हुआ हो तो 
* मुख्य रूप से किस मुद्दे पर काम हुआ /योजना का नाम 
* योजना किस क्षेत्र से सम्बन्धित है -
☉ support in digital access area
☉ support in non digital access area
☉ out of school children
☉ girls child
☉ CWSN
☉ teacher capacity building
☉ parental engagement 
☉ teacher as corona warrior
☉ use of social media
* description of the scheme ( one para in english only ) 

सभी जानकारी को अच्छे से चेक करने के बाद अंत में submit पर क्लिक करना है |


फ्रेंड्स ,यदि आप चाहते हैं कि आपको राष्ट्रिय स्तर पर पहचान मिले तो  इस जानकारी को शीघ्र ही फिल कर सबमिट करना होगा ,इस जानकारी को अधिक से अधिक शिक्षकों को शेयर जरुर करें ,इस आर्टिकल से जुड़ी अधिक जानकारी के लिए नीचे दिए कमेन्ट बॉक्स में कमेन्ट कर हमें जरुर भेजें 

Post a comment

0 Comments