स्कूलों को प्राप्त MDM चावल का होगा भौतिक सत्यापन

शासन द्वारा मध्यान्ह भोजन योजना के अंतर्गत प्रत्येक माह स्कूलों को चावल आबंटन भेजा जाता है , ताकि बच्चों को शाला में दोपहर का पोष्टिक भोजन मिल सके | कोरोना के कारण मार्च 2020 से अब तक शाला का संचालन बच्चों के लिए बंद रखा गया है , जिसके कारण स्कूलों में मध्यान्ह भोजन नही बन पा रहा है |

भारत सरकार द्वारा कोरोना के कारण शाला बंद के दिनों का मध्यान्ह भोजन योजना का सूखा राशन वितरण करने का निर्णय लिया गया था ,जिसके आधार राज्य शासन द्वारा सूखा राशन वितरण हेतु समय -समय पर निर्देश जारी किया जाता रहा है | इस आधार पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए शिक्षकों द्वारा पालकों को मध्यान्ह भोजन योजना का सूखा राशन वितरण किया जाता है |

शासन द्वारा शाला बंद के दौरान शालाओं को जारी चावल का भौतिक सत्यापन कराने का निर्णय लिया गया है | इसके लिए लोक शिक्षण संचालनालय ,इन्द्रावती भवन , नवा रायपुर द्वारा समस्त जिला शिक्षा अधिकारी को आदेश जारी कर मध्यान्ह भोजन चावल का भौतिक सत्यापन कराने को कहा गया है |

हालांकि इसके लिए निर्धारित समय सीमा समाप्त हो चुकी है ,परन्तु कई जिलों में अभी भौतिक सत्यापन का कार्य चल रहा है।

दिनांक 19.03.2021 को लोक शिक्षण  संचालनालय ,इन्द्रावती भवन , नवा रायपुर द्वारा जारी आदेश में मध्यान्ह भोजन योजना की गाइड लाइन 2006 का सन्दर्भ देते हुए कहा गया है कि मध्यान्ह भोजन योजना अंतर्गत राज्य में 13 मार्च 2020  से आज पर्यंत सूखा राशन का वितरण किया जा रहा है | मध्यान्ह भोजन योजना के अंतर्गत छत्तीसगढ़ नागरिक आपूर्ति निगम के द्वारा उचित मूल्य की दूकान के माध्यम से चावल उपलब्ध कराया जाता है | विकास खंड शिक्षा अधिकारी कार्यालय से प्राप्त कूपन के आधार पर शिक्षकों द्वारा चावल का उठाव उचित मूल्य की दूकान से किया जाता है | दिनांक 28 फरवरी 2021 की स्थिति में स्कूलों में उपलब्ध चावल का भौतिक सत्यापन कराया जाना है |



विकास खंड शिक्षा अधिकारी /नियुक्त प्रतिनिधि करेंगे सत्यापन -

लोक शिक्षण  संचालनालय ,इन्द्रावती भवन , नवा रायपुर द्वारा जारी आदेश के अनुसार शालाओं में उपलब्ध चावल का भौतिक सत्यापन विकास खंड शिक्षा अधिकारी / नियुक्त प्रतिनिधि द्वारा किया जाना है | भौतिक सत्यापन हेतु फॉर्मेट भी MDM पोर्टल पर उपलब्ध भी करा दिया गया है |

विकास खंड शिक्षा अधिकारी /नियुक्त प्रतिनिधि द्वारा मध्यान्ह भोजन योजना के अंतर्गत स्कूलों को प्राप्त चावल का 1 मार्च 2020 से 28 फरवरी 2021 तक कुल 12 माह का भौतिक सत्यापन करेंगे |

इस तिथि तक सत्यापन का कार्य पूर्ण करना होगा -

लोक शिक्षण  संचालनालय ,इन्द्रावती भवन , नवा रायपुर द्वारा जारी आदेश के अनुसार 31 मार्च 2021तक भौतिक सत्यापन का कार्य पूर्ण करना होगा ,परन्तु कुछ जिलों में अभी तक भौतिक सत्यापन का कार्य पूर्ण नही हो पाया है ,जिसके कारण MDM पोर्टल पर जानकारी अद्यतन नही किया जा सका है | 

यदि अभी तक किसी शाला में mdm का भौतिक सत्यापन नही हुआ है तो कभी भी विकास खंड शिक्षा अधिकारी या नियुक्त प्रतिनिधि भौतिक सत्यापन के लिए आ सकते हैं |

केंद्र से आबंटन अप्राप्त इस लिए लाभान्वित माह मार्च का आबंटन शून्य -

छत्तीसगढ़ mdm पोर्टल में प्रदर्शित सूचना के अनुसार केंद्र सरकार द्वारा चावल का अतिरिक्त आबंटन नही दिया गया है ,इस लिए प्रविष्टि माह फरवरी 2021 तथा लाभान्वित माह मार्च 2021 का आबंटन शून्य जारी होने की बात कही गई है |

Post a comment

0 Comments