सर्व शिक्षक संघ के प्रांताध्यक्ष विवेक दुबे ने रिमबर्समेंट बिल पास होने में हो रही तकनीकी परेशानियों के बारे में कही ये महत्वपूर्ण बात

सर्व शिक्षक संघ के प्रांताध्यक्ष विवेक दुबे समय -समय पर शिक्षक हित से जुड़े मुद्दों पर उपयोगी और तकनीकी जानकारी साझा करते रहते हैं | उनके द्वारा कुछ दिन पूर्व तकनीकी त्याग पत्र के बारे शिक्षकों के लिए विस्तृत जानकारी साझा किया गया था , जिससे निम्न पद से उच्च पद या समकक्ष पद पर जाने वालों शिक्षकों में जो संशय की स्थिति बना हुआ था ,वह दूर हुआ |


जैसाकि आपको विदित है ,प्रदेश में एक बार फिर वैश्विक महामारी कोरोना का प्रकोप बढ़ रहा है | स्कूलों में प्रायोगिक परीक्षा हो ,मुहल्ला क्लास हो या कोरोना से जुड़े कार्य हो अलग -अलग जिलों से शिक्षकों का कोरोना पॉजिटिव होने की खबरें प्रकाशित होते रहता है | 

सर्व शिक्षक संघ के प्रांताध्यक्ष विवेक दुबे ने रिमबर्समेंट बिल के सम्बन्ध में हो रही तकनीकी परेशानियों के बारे में एक महत्वपूर्ण जानकारी साझा किया है ,जिसे सभी शिक्षकों को ध्यान से जरुर पढ़ना चाहिए | 

मेडिकल रिमबर्समेंट  बिल -

मेडिकल रिमबर्समेंट कर्मचारियों द्वारा स्वयं या परिवार के सदस्यों के मेडिकल क्लैम के एवज में किया गया भुगतान होता है | वर्तमान में कोरोना विभिन्न ड्यूटी करते हुए शिक्षक कोरोना से संक्रमित हो रहे हैं और स्वस्थ्य होने के लिए विभिन्न अस्पतालों में अपना उपचार करा रहे हैं | उपचार के दौरान खर्च हुए रूपये के लिए मेडिकल बिल क्लेम कर सकते हैं | मेडिकल बिल क्लेम करने के लिए कुछ आवश्यक शर्तों का पालन करना जरुरी होता है |

यदि ऐसा नही किया तो मेडिकल बिल क्लैम करने में कुछ तकनीकी परेशानियां हो सकती है |

 रिमबर्समेंट बिल के सम्बन्ध में ये कहा है विवेक दुबे ने - 

वर्तमान में यदि हमारे किसी शिक्षक साथी को कोविड पॉजिटिव होने के कारण अस्पताल में एडमिट होना पड़ता है तो ऐसी स्थिति में वह अपने परिजनों के माध्यम से अपने आहरण संवितरण अधिकारी ( DDO ) को इस संबंध में तत्काल सूचना दिलवाएं या स्वयं व्हाट्स एप या अन्य माध्यम से सूचना जरुर दें |

साथ ही आप संचालक, चिकित्सा शिक्षा , पुराना मंत्रालय , शहीद स्मारक के सामने ,  रायपुर (छ. ग) के नाम से पत्र  लिखें | पत्र में 'द्वारा' में आप प्राचार्य या बीईओ को  माध्यम के रूप में रख सकते है अगर आप के परिजन उच्च कार्यालय में जमा करके वहां से भी पावती ले लेते हैं तो और बेहतर है | न हो सके तो आप संचालक, चिकित्सा शिक्षा के नाम पर पत्र लिखकर केवल अपने कार्यालय को सूचना दे दीजिए बाकी जिम्मेदारी उनकी रहेगी। 

ऐसा करना अति आवश्यक है क्योंकि ऐसा न करने की स्थिति में रिमबर्समेंट बिल पास होने में दिक्कत आ रही है और आपत्ति लग जा रहा है । अतः यदि किसी भी साथी के समक्ष ऐसी स्थिति उत्पन्न होती है तो वह इस काम को अवश्य कर लेवे और कोशिश करें की एडमिट होने के 24 घंटे के अंदर यह हो जाए । 

यदि परिजन भी उपलब्ध न हो तो ऐसी स्थिति में पत्र (कागज में ) लिखकर उसका पीडीएफ फाइल बनाकर व्हाट्सएप के जरिए भेज दें और कार्यालय प्रमुख को इसकी फोन करके सूचना भी दे दें । 

DDO /संस्था प्रमुख /संचालक चिकित्सा ,शिक्षा को पत्र लिखना क्यों जरुरी है -

DDO /संस्था प्रमुख /संचालक चिकित्सा शिक्षा को पत्र लिखना ,इस लिए जरुरी है क्योंकि जब मेडिकल क्लेम किया जा रहा है तो ऐसा न करने की स्थिति में रिमबर्समेंट बिल पास होने में दिक्कत आ रही है और आपत्ति लग जा रहा है । 

Post a comment

0 Comments