षड़यंत्र के तहत प्राचार्य पद वन टाइम रिलेक्सेशन से बाहर.........एल बी संवर्ग के व्याख्याता है आक्रोशित - बना रहे है आन्दोलन की रणनीति

जगदलपुर- छत्तीसगढ़ टीचर्स एसोसिएशन ने कहा है , कि प्राचार्य पद के लिए वन टाइम रिलेक्सेशन का नियम जानबूझकर जिम्मेदार अधिकारियों ने नही बनाया। ऐसा प्रतीत होता है , कि एल बी संवर्ग को विभाग के अधिकारी अधिकार देना ही नही चाहते। इसी षड्यंत्र के तहत पूर्व में भी शाला प्रभार व दायित्व से वंचित किया गया था।

शिक्षा विभाग के भर्ती व पदोन्नति नियम 5 मार्च 2019 में स्कूली शिक्षा कक्षा 1 से 12 तक मैदानी क्षेत्र में है, जिसमे व्याख्याता, प्रधान पाठक मिडिल, शिक्षक व प्रधान पाठक प्रायमरी के पद पर पदोन्नति हेतु 5 वर्ष के अनुभव को एक बार के लिए 3 वर्ष किया गया है। आखिर प्राचार्य पद को छूट में शामिल नही करना षणयंत्र का हिस्सा ही है,इससे एल बी संवर्ग के व्याख्याता भारी आक्रोश व्याप्त है।

प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने उदारता पूर्वक कैबिनेट में 5 वर्ष को 3 वर्ष  रिलेक्सेशन करने का निर्णय लिया, किन्तु अधिकारियों ने प्राचार्य पद को शामिल न कर मुख्यमंत्री के भावना के विपरीत निर्णय करा दिया,इससे हजारो एल बी संवर्ग के व्याख्याता बिना पदोन्नति के रिटायर हो रहे है।

प्राचार्य पद को फीडिंग कैडर में शामिल नही किया गया है, साथ ही गुपचुप तरीके से ई संवर्ग के ब्याख्याताओ को लाभ देने के उद्देश्य से एल बी संवर्ग को ई /टी संवर्ग में लाने के लिए नियम बनाने का प्रयास किया जा रहा है

छत्तीसगढ़ स्कूल शिक्षा सेवा (शैक्षिक एवं प्रशासनिक संवर्ग) भर्ती तथा पदोन्नति नियम 2019 में ई/ टी संवर्ग व ई / टी एल बी संवर्ग के शिक्षकों से पदोन्नति के पदों की पूर्ति के लिए पृथक पृथक पद का रेशियो तय किया गया है। एल बी संवर्ग को समाप्त कर शिक्षा विभाग एल बी संवर्ग को कनिष्ठ बनाते हुए पदोन्नति रेशियो को समाप्त कर एल बी संवर्ग को पदोन्नति से वंचित करने की तैयारी में है जिसे स्वीकार नही किया जाएगा।

छ ग टीचर्स एसोसिएशन के प्रवीण श्रीवास्तव, शिव सिंह चंदेल, राजेश गुप्ता , ताहिर शेख , अमित पाल कमला शर्मा ,भूमिका निषाद, फुल दास नागेश, हरेंद्र राजपूत, सुधीर दुबे, धनेश्वर बघेल, मंगल राम मौर्य, देवानंद नाग ,अफजल अली ,आशीष दास ,संतोष पाणिग्रही, जगदीश पात्र रूद्र नारायण भारद्वाज, नीलमणि साहू ,पवन समरथ, अनिल पटेल, सत्यनारायण सोनवानी, गजराज सिंह, सतीश लोनहारे ,तुला दास मानिकपुरी ,पंकज जोशी, मनीष अहीर, महेंद्र पांडे, लुदर्शन कश्यप, मनीष ठाकुर,  भुनेश्वर नाग, अमित अवस्थी, हेमंत मंडावी, कुबेर चंद देहुरी, शत्रुघ्न कश्यप आदि ने कहा है कि प्राचार्य पद के लिए वन टाइम रिलेक्सेशन का शीघ्र निर्णय नही लिया गया तो एल बी संवर्ग के व्याख्याताओ के साथ अन्याय होगा इसका टीचर्स एसोसिएशन सड़क पर विरोध करेगा। उक्त जानकारी छ ग टीचर्स एसोसिएशन जिला बस्तर के मिडिया प्रभारी नीलमणी साहू ने दी |

Post a Comment

0 Comments