विधानसभा सत्र के कारण कमेटी की रिपोर्ट में देरी........सहायक शिक्षकों ने बुलाई बड़ी मीटिंग

रायपुर- सहायक शिक्षकों की मुख्य मांग वेतन विसंगति को लेकर गठित कमेटी की मियाद खत्म होने को है , परंतु विधानसभा सत्र के व्यस्तता कारण कमेटी की बैठक नहीं हो पा रही है। कमेटी की बैठक में देरी और आम सहायक शिक्षकों के राय के संबंध में आज रायपुर में बड़ी बैठक बुलाई गई है।

सहायक शिक्षक फेडरेशन द्वारा आज रायपुर में अपने पदाधिकारियों की मीटिंग बुलाई गई है ,इसके बाद ही तय होगा कि क्या सहायक शिक्षकों की मांगों पर गठित कमेटी की रिपोर्ट आने का इंतजार किया जाएगा या अनिश्चितकालीन आंदोलन की घोषणा की जाएगी।

17 दिसंबर से पहले कमेटी अपनी रिपोर्ट राज्य सरकार को सौप देगी शिक्षा सचिव-

कल दिनांक 04.12.2021 को सहायक शिक्षक फेडरेशन के पदाधिकारियों का शिक्षा सचिव के साथ बैठक सम्पन्न हुआ । प्राप्त जानकारी के अनुसार बैठक करीब 50 मिनट तक चली जिसमें वेतन विसंगति के मुद्दे पर लंबी चर्चा हुई है। बैठक में शिक्षा सचिव डॉ कमलप्रीत सिंह ने फेडरेशन को आश्वस्त किया है कि 17 दिसंबर से पहले कमेटी अपनी रिपोर्ट राज्य सरकार को सौंप देगी।

 विधानसभा की व्यस्तता के कारण कमेटी की रिपोर्ट में देरी-

शिक्षा सचिव डॉ कमलप्रीत सिंह और सहायक शिक्षक फेडरेशन के बीच हुए कल की बैठक में शिक्षा सचिव ने कहा कि विधानसभा की व्यस्तता की वजह से कमेटी के सभी सदस्यों का बैठक नहीं हो पा रही है। उन्होंने फेडरेशन के सदस्यों को आश्वस्त किया कि 17 दिसंबर से पहले कमेटी अपनी रिपोर्ट राज्य सरकार को सौंप देगी।

पदोन्नति में वन टाइम रिलैक्सेशन से कुछ ही सहायक शिक्षकों को होगा लाभ मनीष मिश्रा-

बैठक के दौरान सहायक शिक्षक फेडरेशन के प्रांत अध्यक्ष मनीष मिश्रा ने शिक्षा सचिव के सामने अपनी बात रखते हुए कहा कि सहायक शिक्षकों को प्रमोशन में मिलने वाले वन टाइम रिलैक्सेशन का लाभ कुछ ही सहायक शिक्षकों को होगा । इसलिए सहायक शिक्षकों की 1 सूत्री मांग वेतन विसंगति दूर होनी चाहिए।

बैठक के बाद ये कहा मनीष मिश्रा ने -

शिक्षा सचिव डॉ कमलप्रीत सिंह के साथ बैठक संपन्न होने के बाद सहायक शिक्षक फेडरेशन के प्रांत अध्यक्ष मनीष मिश्रा ने कहा कि "शिक्षा सचिव डॉ कमलप्रीत सिंह के साथ लंबी चर्चा हुई उन्होंने आश्वस्त किया है कि सहायक शिक्षकों की मांगों पर कमेटी गंभीर है , लेकिन विधानसभा सत्र की वजह से कमेटी की बैठक नहीं हो पा रही है | 17 दिसंबर के पहले तक कमेटी अपनी रिपोर्ट राज्य सरकार को सौंप देगी। हालांकि अभी हम लोग आंदोलन से पीछे नहीं हैं , कल हमारी फेडरेशन की बड़ी बैठक होगी जिसमें सहायक शिक्षकों की जो राय होगी उसके अनुसार काम किया जाएगा।"

join our whatsapp groups -


Post a Comment

0 Comments