हड़ताल अवधि के वेतन के लिए सहायक शिक्षकों को अभी और करना पड़ सकता है इन्तजार assistant teachers may have to wait more for the salary of the strike period

shikshaklbnews- वेतन विसंगति के मुद्दे को लेकर सहायक शिक्षक फेडरेशन के बैनर तले 18 दिन तक चले अनिश्चितकालीन आंदोलन समाप्ति के बाद हड़ताल अवधि का वेतन जारी होने का आस लिए सहायक शिक्षकों को अभी और इन्तजार करना पड़ सकता है | हालाँकि वेतन के प्रस्ताव पर शिक्षामंत्री का हस्ताक्षर हो चूका है और DPI को भेजा जा चूका है |

आंदोलन वापसी के बाद फेडरेशन के प्रांतीय पदाधिकारियों द्वारा 5 जनवरी 2022 तक वेतन जारी होने के संबंध में सूचनाएं प्रसारित की गई थी, परंतु ऐसा नहीं हो सका। वेतन जारी नहीं होने से सहायकों की आर्थिक स्थिति गड़बड़ा गया है | वेतन जारी होने के सम्बन्ध में सहायक शिक्षकों द्वारा लगातार सवाल पूछा जा रहा है ,परन्तु अभी तक उन्हें विश्वसनीय जानकारी नही मिल पा रहा है |

इसे भी पढ़ें - पदोंन्नति में दो बार स्नातक का मामला गरमाया 

नये DPI के ज्वाइन करने के बाद जारी हो सकता है आदेश-

राज्य सरकार द्वारा प्रशासनिक फेरबदल करते हुए तत्कालीन डीपीआई शिक्षा सचिव डॉक्टर कमलप्रीत को आयुक्त लोक शिक्षण संचालनालय के एडिशनल चार्ज से मुक्त कर दिया गया है तथा सुनील कुमार जैन को नया डीपीआई बनाया गया है। इस संबंध में प्राप्त जानकारी के अनुसार लगातार छुट्टियों के वजह से अभी तक सुनील जैन चार्ज नहीं ले पाये है, सम्भवतः बुधवार को वे अपना पदभार ग्रहण करेंगे , उसके बाद ही हड़ताल अवधि का वेतन जारी करने के संबंध में आदेश जारी हो सकता है।

इसे भी पढ़ें - वेतन जारी नही होने से आर्थिक तंगी से गुजर रहे सहायक शिक्षक

वेतन की मांग कर रहे सहायक शिक्षकों पर शिक्षा मंत्री की नाराजगी आई सामने-

दरअसल शिक्षा मंत्री डॉ प्रेम सिंह टेकाम वाड्रफनगर दौरे पर थे इस दौरान सहायक शिक्षक फेडरेशन वाड्रफनगर के ब्लॉक अध्यक्ष सहित कई पदाधिकारी ज्ञापन के साथ उनसे मिलने पहुंचे थे। इसके बाद शिक्षा मंत्री बिफर पड़े उन्होंने कहा कि "18 दिन हड़ताल की स्कूल पूरा बंद रहा बच्चों के पढ़ाई का कितना नुकसान हुआ पता है ,तुम्हारे अध्यक्ष बोलते हैं कि लिखित में आश्वासन दीजिए तब हड़ताल तोड़ेंगे, हमारी बात तो तुम लोग मानी ही नहीं ,अभी वेतन की बात कर रहे हो,तुम्हारे अध्यक्ष ने अभी तक मुलाकात ही नहीं की है।"

इसे भी पढ़ें - शिक्षक पदोन्नति प्रक्रिया 31 जनवरी तक पूर्ण करने के निर्देश 

वेतन जारी नहीं होने की वजह कहीं शिक्षामंत्री की नाराजगी तो नहीं-

सहायक शिक्षकों के ज्ञापन पर जिस तरीके से शिक्षा मंत्री का बयान सामने आया है उसको लेकर तरह-तरह के मायने निकाले जा रहे हैं। कई सहायक शिक्षक तो यह भी कह रहे हैं कि कहीं वेतन जारी नहीं होने की वजह शिक्षा मंत्री की नाराजगी तो नहीं है। वजह चाहे जो भी हो परंतु वर्तमान में सहायक शिक्षक बहुत ही ज्यादा आर्थिक तंगी के दौर से गुजर रहे हैं।

join our whatsapp groups -


Post a Comment

0 Comments